जनसंपर्क यात्रा: कुरूद में मंत्री चंद्राकर ने सुनी लोगों की समस्याएं, दिए तुरंत निराकरण के निर्देश

कुरूद. बीजेपी की जनसंपर्क पदयात्रा का पूरे प्रदेश के साथ कल 11 मार्च को कुरूद में भी आगाज हो गया है। कुरुद विभानसभा क्षेत्र में पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री अजय चंद्राकर सेमरा के ईष्टदेव सिरदार देव बाबा की पूजा कर जनसंपर्क पदयात्रा की शुरुआत की। इस जनसंपर्क यात्रा में ग्रामीणों को भाजपा की जनसंपर्क यात्रा का उद्देश्य बताया। वहीं यात्रा के दौरान ग्रामीणों द्वारा खुशी जताते हुए पुष्प वर्षा कर कैबिनेट मंत्री अजय का अभिनंदन किया। अभियान के तहत किए गए गांवों की यात्रा मार्ग पर तोरण और पार्टी ध्वज से सजे हुए थे। यात्रा के साथ-साथ युवाओं की टोलियां विजयी घोष करते हुए साथ चल रही थी।

इस दौरान मंत्री चंद्राकर ने 8 गांवों का भ्रमण किया है। साथ ही 2 आम सभा को संबोधित किया। आज अपने विधानसभा में कार्यकर्ताओं और ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सिरदार देव की पुण्यप्रताप इस क्षेत्र में है। जिसका पौराणिक आस्था के चलते देश में कुरुद क्षेत्र का मान है। मंत्री ने यात्रा के उद्देश्य बताते हुए कहा कि यह यात्रा किसी के खिलाफ नही है बल्कि जन-जीवन में बेहतर तब्दीली आए लोगों को पानी, बिजली, चिकित्सा, सड़क, रोजगार मिले जिससे लोगों का जीवनस्तर उठ सके यह संदेश पहुंचाने के उद्देश्य से यह यात्रा प्रारंभ की है। उन्होनें बताया कि सिरदार देव की भूमि से कुलेश्वर महादेव तक यात्रा करेगें। मंत्री अजय चन्द्राकर ने छतीसगढ़ सरकार और क्षेत्र में हुए उत्तरोत्तर विकास को जनमानस के बीच रखते हुए कहा कि कुरूद क्षेत्र की तस्वीर बदली है। प्रदेश में ऐसा कोई विधानसभा नहीं है जहां तीन-चार कॉलेज हो। उन्होनें छत्तीसगढ़ की सबसे बड़ी समस्या शिक्षा को बताते हुए स्कूल, कॉलेज, आईटीआई की ओर विशेष ध्यान देने की बात कही।

74 लाख के करीब विकास कार्यों का लोकार्पण किया

इसके बाद मंत्री अजय चंद्राकर ग्राम जोरातराई(सी) पहुंचे जहां उन्होंने 73 लाख 96 हजार रुपये की लागत से नवनिर्मित हाई स्कूल भवन का लोकार्पण किया। उसके पश्चात उपस्थित जनसमूहों को संबोधित करते हुये कहा कि जोरातराई सहित कुरुद क्षेत्र विकास के पथ पर अग्रसर हो चुका है। सड़क, बिजली, पानी के साथ-साथ सिलौटी में महाविद्यालय, खपरी में उपस्वास्थ्य केंद्र, कोर्रा में सामुदायिक भवन, के साथ सीसीरोड, भवन निर्माण, सिंचाई की समुचित व्यवस्था इत्यादि लेकिन यह मंजिल नहीं अभी पड़ाव है क्षेत्र को और विकास और प्रगति करनी हैष स्वर्णिम प्रदेश बनें इस हेतु जनता-जनार्दन के सहयोग की आवश्यकता है। उन्होंने भौतिक विकास को गौण बताते हुए लोगों से व्यक्तित्व विकास की ओर अग्रसर होने के साथ असली विकास की सोच पैदा करने की बात कही। तत्पश्चात वे ग्रामीणों से संपर्क व आशीर्वाद प्राप्त करते हुए सिलौटी, सौराबंधा, जुगदेही, कोर्रा व इर्रा पहुंचे जहां प्रधानमंत्री मोदी के संकल्प से सिद्धि व लक्ष्य अंत्योदय की बात जनमानस तक पहुचाते हुए क्षेत्र व प्रदेश को उन्नति के शिखर तक ले जाने सहभागिता दर्शाने व आपसी भाईचारे व एकता की मिशाल पेश करने की बात कही।

News Reporter