रोका छेका संकल्प कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ

सारंगढ़ 19 जून 2020:-  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशित कार्यक्रम रोका छेका के उद्देश्य जानकारी  सुकन्या मजूमदार द्वारा ग्रामीणों को दिया गया। राज्य में बारह मासी खेती को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से खुले में चराई की प्रथा पर रोक लगाने तथा पशुधन प्रबंधन की व्यवस्था को बेहतर करने के निर्देश दिए हैं। ग्रामीणों, किसानों और पंचायत पदाधिकारियों को गांव में बैठक कर पशुओं के ‘रोका-छेका‘ की व्यवस्था सुनिश्चित करने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि इससे फसलों को होने वाले नुकसान को रोका जा सकता हैं।

उसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए ग्राम फर्सवानी में बने गौठान में आज से रोका छेका का पहली चरण सुरु हुआ जहा सैकड़ों मवेशियों की पानी ,खाने के लिए चारा इत्यादि सारी मेवेसियो की देख रेख के लिए चरवाहा भी रखे गए है प्रारंभिक बैठक पूर्ण हुआ बैठक में उपस्थित रोका छेंका ‌,सरपंच श्री गंगाराम सिदार ,सचिव लालबहादुर निषाद,उपसरपंच भानुप्रताप ,भोगीलाल, शिव प्रसाद ,किशोर, रामभरोस, गोठान समिति अध्यक्ष चंद्रशेखर पटेल ग्राम जन सहयोगी गढ़ उपस्थित रहे