जिले में कोरोना संक्रमण में एक्टिव सर्विलेंस के लिए गठित टीमों का हुआ प्रशिक्षण

रायगढ़, 14 मई 2020/ राज्य शासन के निर्देश तथा कलेक्टर श्री यशवंत कुमार के मार्गदर्शन में जिले के नगरीय निकायों एवं जनपद पंचायतों में कोरोना संक्रमण के संबंध में सर्वे कार्य हेतु एक्टिव सर्विलेंस के लिए गठित टीमों का प्रशिक्षण प्रारंभ हुआ। आज कलेक्टोरेट परिसर रायगढ़ के सृजन सभाकक्ष में नगर निगम रायगढ़ तथा जनपद पंचायत रायगढ़ के लिए गठित टीम को मास्टर टे्रनर्स द्वारा तीन पाली में प्रशिक्षण दिया गया। इसके अतिरिक्त नगरीय निकाय व जनपद मुख्यालयों में भी प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित हुआ। आज 15 मई को शेष बचे टीमों को भी प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण के दौरान सोशल एवं फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया।

मिली जानकारी अनुसार जिले के समस्त नगरीय निकाय के वार्ड संख्या के आधार पर टीमें बनायी गयी है। प्रत्येक जनपद पंचायतों के लिए 5 टीम का गठन किया गया है। प्रत्येक टीम में शिक्षक व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं सहित 4 सदस्य होंगे। स्वास्थ्य विभाग की एडवायजरी के अनुसार जिले में किसी भी स्थान पर कोरोना संक्रमित पाये जाने पर उसके निवास स्थान के चारों ओर के एक किलोमीटर के क्षेत्र को कन्टेन्मेंट जोन घोषित किया जाता है तथा उस कन्टेन्मेंट जोन में निवास करने वाले प्रत्येक घरों तथा पूरी आबादी का सर्वे किया जाता है। सर्विलेंस टीम द्वारा ही यह सर्वे का कार्य किया जाता है।

सर्वे के दौरान सर्विलेंस टीम घर-घर जाकर लोगों से जानकारी एकत्र करेगी। जिसमें सर्वे के लिए बने प्रपत्र के अनुसार जानकारी जैसे घर का पता, मुखिया का फोन नंबर, परिवार के सदस्यों की संख्या, सदस्यों की संख्या, उनके नाम, उम्र, लिंग, व परिवार के लोगों की मेडिकल हिस्ट्री के साथ ट्रेवल हिस्ट्री के बारे में भी पूछा जाएगा। जिसमें किसी सदस्य द्वारा यदि विदेश या अन्य राज्य की यात्रा की गई है तो वह जानकारी भी ली जाएगी। लॉक डाउन में घर में यदि कोई मेहमान रुके हैं तो यह भी प्रपत्र में दर्ज होगा।

एक्टिव सर्विलेंस टीम के लिए महिला एवं बाल विकास अधिकारी श्री टी.के.जाटवर को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। जिले में मॉस्टर टे्रनर प्राचार्य श्री राजेश डेनियल, श्री नरेन्द्र पर्वत, श्री राकेश दुबे तथा अन्य मास्टर टे्रनर्स द्वारा प्रशिक्षण दिया गया।