चीन को लगेगा आर्थिक झटका..सरकार रद्द कर सकती है दिल्ली मेरठ RRTS प्रोजेक्ट..!

नई दिल्ली।  चीन (China) के साथ गलवान घाटी में हुए खूनी संघर्ष के बाद देश भर में रोष पैदा हो गया है। जिसके बाद माना जा रहा है कि चीन को आर्थिक झटका भारत दे सकता है। इसके लिये केंद्र सरकार चीनी कंपनी को दिये ठेके को रद्ध करने के सभी पहलुओं पर विचार कर रही है। जिसमें मेरठ रैपिड रेल का प्रोजेक्ट भी रद्ध किया जा सकता है।

घात लगाकर भारतीय सेना पर हुआ हमला

दरअसल मंगलवार रात ही चीन का दुस्साहस तब सामने आया जब घात लगाकर निहत्थे भारतीय सेना पर पत्थर और कंटीले रॉड से हमला बोल दिया।

जिसमें भारत के 23 जवान शहीद हो गए। जिसके बाद देश भर में चीनी उत्पाद और चीनी परियोजना को ठप करने को लेकर केंद्र सरकार पर दवाब बढ़ रहा है। देश के आमजनों से लेकर विपक्षी दलों ने बी केंद्र सरकार से ऐसे सभी प्रोजेक्ट को रद्ध करने की मांग की है जिसमें चीन का सहभागिता हो। अब देखना दिलचस्प हो गया है कि केंद्र सरकार चीनी परियोजना पर कौन-सा फैसला करती है।

चीनी कंपनियों को लगेगा झटका

बता दें कि पिछले साल RRTS प्रोजेक्ट के लिये निविदा आमंत्रित किये गए थे। जिसमें चीनी कंपनी ने कम बोली लगाकर यह करार अपने पक्ष करने में सफल रही। लेकिन नवंबर में भारत के साथ चीन के रिश्ते भी बेहतर थे। लेकिन अब बदले हुए माहौल में चीन के खिलाफ गुस्सा के कारण चीनी कंपनियों को भुगतना पड़ सकता है। मालूम हो कि मेरठ रेल प्रोजक्ट के तहत दिल्ली से लेकर मेरठ तक हाई स्पीड रेल कॉरिडोर बनाया जाएगा। जो 82.15 किलोमीटर लंबा होगा। इसमें चीनी कंपनी ने 1126 करोड़ रुपये की बोली लगाई थी। लेकिन अब यह प्रोजेक्ट अधर में लटक सकता है।