32.9 C
Raipur
Sunday, June 13, 2021

दिल्ली क्राइम ब्रांच के अधिकारी बनकर अवैध वूसली करने वाले दो आरोपी गिरफ्तार

- Advertisement -
- Advertisement -



नोएडा सेक्टर-58 थाना पुलिस ने दिल्ली क्राइम ब्रांच अधिकारी बताकर अवैध वसूली करने वाले गिरोह के दो आरोपियों को लेबर चौक से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों से दो मोबाइल सहित नकदी बरामद की है।



पुलिस को सूचना मिली थी कि दो युवक सेक्टर-58 लेबर चौक पर चेकिंग के नाम पर लोगों को रोककर उनसे अवैध वसूली कर रहे हैं। आरोपी खुद को दिल्ली क्राइम ब्रांच का अधिकारी बताकर लोगों को डरा रहे हैं। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने मौके से दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों की पहचान दिल्ली के महरौली चंदन कॉलोनी निवासी मोहम्मद अफसर और वाराणसी के मोहनदास पुर निवासी नीरज चौबे के रूप में हुई। पुलिस ने आरोपियों से 4520 रुपये, एक आरसी, एक इंश्योरेंस, पॉल्यूशन रजिस्ट्रेशन, दो प्रेस आईडी कार्ड, दिल्ली क्राइम ब्रांच भ्रष्टाचार विरेाधी मोर्चा आईडी सहित दो मोबाइल बरामद किए। 



महामाया फ्लाईओवर पर की थी ठगी

एसीपी रजनीश वर्मा ने बताया कि पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने खुलासा किया कि उन्होंने एक पीड़ित विनोद कुमार से 20 मई को महामाया फ्लाईओवर पर खुद को क्राइम ब्रांच का अधिकारी बताकर साढ़े चार हजार रुपये ले लिए थे। आरोपियों ने पीड़ित के वाहन के दस्तावेज की जांच करने व जेल भेजने की धमकी देने के नाम पर 15 हजार रुपये की मांग की थी। इसके बाद साढ़े चार हजार रुपये लिए थे। पुलिस जांच में सामने आया है कि आरोपी खुद को दिल्ली क्राइम ब्रांच भ्रष्टाचार विरोधी मोर्चा के पत्रकार भी बताते थे। उसका आईकार्ड भी अपने साथ रखते हैं। इस पर बड़े अक्षरों में दिल्ली क्राइम व प्रेस लिखा है। इस वजह से लोग गुमराह हो जाते हैं। यदि कोई पुलिस वाला मिल जाता है तो आरोपी खुद को पत्रकार बता देते हैं। आरोपियों ने पीड़ित विनोद को ही लेबर चौक पर पैसे लेकर बुलाया था, तभी पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

बिना हेलमेट व मास्क के लोगों को बनाते हैं शिकार

पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वह आमतौर पर बिना हेलमेट और मास्क न लगाने वालों लोगों को अपना शिकार बनाते थे। आरोपी ऐसे लोगों को सड़क पर रोककर उनके फोटो खींचते थे। फिर उन्हें जेल भेजने व भारी जुर्माने का चालान बनाने की धमकी देकर अवैध वसूली करते थे। आरोपी क्राइम ब्रांच का नाम लिखा ही मास्क भी पहनते थे, ताकि लोगों को भरोसा हो जाए। आरोपियों ने एक महिला सहित अन्य लोगों के साथ भी ठगी की है।



Related Articles

Stay Connected

0FansLike
37FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -