डॉक्टर्स व जिम्मेदार अधिकारियों का मनोबल कायम रखना हम सब की जिम्मेदारी – उमेश पटेल.!

खरसिया :- वर्तमान में कोरोना वायरस संक्रमण के कठिन समय में डॉक्टर व पुलिस विभाग सहित सभी जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारियों का मनोबल बढ़ाना हम सबकी जिम्मेदारी है। यदि कोई मानवीय भूल हो जाती है तो उसे स्वीकार करना बड़ी बात है। भविष्य में ऐसी भूल ना हो इस पर भी निश्चित ही ध्यान रखा जाना आवश्यक है। सभी जनता के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए हर संभव मदद को हम तैयार हैं। आगे प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री उमेश नंदकुमार पटेल ने कहा की राजनीति से ऊपर उठ कर कार्य करने का समय है। हम सबको जितना हो सके हर सम्भव मदत ज़रूरत मंद लोगों की करनी है। रायगढ़ जिले के लिए सभी जरूरी दवा रेमडेसीविर की उपलब्धता जारी रहेगी। कोविड के लिए हजार बिस्तर सहित, चिन्हित प्राइवेट अस्पतालों में भी पचास प्रतिशत बेड को भी कोविड के लिए सुरक्षित किया गया है। यह सारी व्यवस्थाएं तत्काल लागू की गई हैं।

मिली जानकारी के अनुसार प्रत्येक दो दिनों में मंत्री उमेश पटेल जिले के समस्त जिम्मेदार अधिकारियों से बैठक लेकर कोरोना वायरस की जंग को जीतने हेतु विचार विमर्श कर दिशा निर्देश जारी करते रहेंगे। ताकि जनहानि से बचा जा सके। जिले के संवेदनशील कलेक्टर भीम सिंह, राहुल सोन और स्वास्थ्य विभाग ने भी माननीय भूल को स्वीकार करते हुए, भविष्य में पुनरावृत्ति नहीं होने की बात कही यह भी एक बड़ी बात है। जनता के हित मे उनके स्वस्थ के प्रति हम सब पूरी जवाबदेही निष्ठा से कार्य कर रहे हैं। किसी तरह की चिन्ता ना करें।

इस मानवीय भूल को समय रहते ही सुधार लिया और पीड़ित पक्ष के सामने इस गलती के लिए खेद भी प्रकट किया, वो वाकई प्रशंसनीय है।

सोनबरसा मामले में तह तक जाने से पूरी जानकारी निकलकर आई। भूलवश हुई इस त्रुटि के संबंध में सबसे पहले परिजनों ने कैबिनेट मंत्री उमेश पटेल को अवगत कराया। तो मंत्री महोदय ने तत्काल संबंधित स्वास्थ्य विभाग व जिला कलेक्टर से बात कर तत्काल संज्ञान लेने व भूल सुधार करने के निर्देश दिए। जिसे जिला प्रशासन ने तुरंत ही खेद व्यक्त करते हुए भूल सुधार भी किया। आपके इस तत्वरित प्रयास से पीड़ित पक्ष भी अब संतुष्ट है व मंत्री उमेश नंद कुमार पटेल का आभार व्यक्त किया।