स्वच्छता और स्वास्थ्य के प्रति जागरूक हों महिलाएं – मंत्री उमेश पटेल

नौरंगपुर में माहवारी स्वच्छता प्रबंधन जागरूकता कार्यक्रम सम्पन्न

रायगढ़। अब समय आ गया है कि महिलाएं स्वच्छता और स्वास्थ्य के प्रति जागरूक हो उन्हें शर्म और संकोच को त्यागने की आवश्यकता है । महावारी स्वच्छता प्रबंधन कार्यक्रम महिलाओं के जागरूकता की दिशा में एक प्रयास है और इस दिशा में हम सबको मिलकर काम करना है। आज महिलाएं हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं बल्कि वे पुरुषों को पीछे छोड़ कर अपनी पहचान बना रही है । उक्त बातें प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री उमेश नंदकुमार पटेल ने ग्राम नौरंगपुर में महावारी स्वच्छता प्रबंधन कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं के जनसमूह को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि के रूप में कहीं। इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष निराकार पटेल ने अपने उद्बोधन में कहा कि नारी शक्ति के सहयोग बिना हमारे समाज की सफलता संभव नहीं है इसलिए महिलाओं को अपने स्वास्थ्य और सुरक्षा के प्रति जागरूक होना चाहिए। कार्यक्रम में उपस्थित रायगढ़ जिला के मुख्य स्वास्थ एवं चिकित्सा अधिकारी श्री एस. एन. केसरी ने भी अपने उद्बोधन में आयोजन के बारे में जानकारी दी ।

सरपंच पद्मलोचन पटेल ने कार्यक्रम के शुरुआत में स्वागत उद्बोधन देते हुए अपने ग्राम में इस आयोजन हेतु समय देने के लिए समस्त अतिथियों का विशेष रूप से धन्यवाद के साथ स्वागत किया तथा अपने गांव में जन अपेक्षाओं के अनुरूप विभिन्न कार्यों की मांग भी की। इससे पहले डॉ. उपमा पटेल (एम.डी.) एवं जिला उद्योग केंद्र उप संचालक श्रीमती अंजू नायक द्वारा भी महिलाओं की जागृति स्वास्थ्य और सुरक्षा विशेष सेनेटरी पैड के उपयोग करने से संबंधित विषयों पर उपस्थित किशोरी व छात्राओं एवं ग्रामीण महिलाओं को विशेष मार्गदर्शन दिया।

कार्यक्रम का संचालन एनएसएस के जिला संगठक भोजराम पटेल ने किया । कार्यक्रम में जिला पंचायत रायगढ़ के माहवारी स्वच्छता प्रबंधन नोडल ऑफिसर मोनिका ईजारदार जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सागर सिंह राज जनपद पंचायत रायगढ़,एनसीसी आफिसर किरणकुमार पटेल, डॉ. सुशील कुमार एक्का कार्यक्रम समन्वयक, शहीद नंदकुमार पटेल विश्व विद्यालय रायगढ़, कार्यक्रम अधिकारी डॉ. गजेंद्र चक्रधारी(बटमूल आश्रम महापल्ली), ताम्रध्वज साय पैंकरा पी.डी. कॉलेज रायगढ़, एनएसएस के स्वयंसेवक नीरज सहिस, तेजराम सारथी आदि विशेष उपस्थिति रहवहीं स्वास्थ्य विभाग की ओर से बी.एम.ओ. डॉ. जी.सी. पैंकरा, बी.पी.एम. वैभव डियोडिया, बी.ई.टी.ओ. उम्मेदराम पटेल, लाल कुमार पटेल, नेत्र सहायक कुर्रे, प्रा.स्वा.केन्द्र के प्रभारी चन्द्रपाल, सुपरवाईजर हेमराम नायक, डोलनारायण, कलावती पटेल, स्टाफ नर्स मीनूराजन एवं अन्य चिकित्सा अधिकारी महिला स्वास्थ्य कर्मियों की उपस्थिति रही।

कार्यक्रम में आस-पास के विद्यालयों से षिक्षक व्याख्याता षोमनाथ साहू प्र. प्राचार्य कांटाहरदी, कोतरा के कार्यक्रम अधिकारी, एस.आर. गुप्ता नंदेली के कार्यक्रम अधिकारी, तारापुर के कार्यक्रम सहायक कृश्ण कुमार सिदार एवं छात्राओं की भी उपस्थिति रही सभी षिक्षक छात्र – छात्राओं के लिए ग्राम पंचायत की ओर से भोजन की भी व्यवस्था की गई थी ।

छात्राओं को बांटे गए निशुल्क सेनेटरी पैड

जिला पंचायत रायगढ़ एवं जिला प्रशासन की ओर से उपस्थित सभी छात्राओं को निःशुल्क सेनेटरी पैड वितरित किया गया एवं स्वास्थ्य सुरक्षा एवं स्वच्छता के विशेष रूप से जागरूक किया गया। छात्राओं ने इस अवसर पर अपने स्तर पर इस स्वच्छछता अभियान को आगे बढ़ाने व जागरूकता लाने का भी संकल्प लिया।

छात्र-छात्राओं ने निकाली ग्राम में स्वच्छता जागरूकता रैली

महामारी स्वच्छता प्रबंधन कार्यक्रम के अवसर पर राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवक, एनसीसी के कैडेट्स और स्काउट के छात्र-छात्राओं द्वारा मिलकर ग्राम नवरंगपुर में स्वच्छता जागरूकता रैली निकाली गई जिसमें ग्राम की गलियों में भ्रमण करते हुए स्वयंसेवकों ने लोगों को स्वच्छ रहकर अपने स्वास्थ्य रक्षा का संदेश दिया इस रैली में एनएसएस के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नंदेली, तारापुर, कोतरा, कांटाहरदी के स्वयंसेवक तथा कुलबा, नवरंगपुर एवं आसपास के विद्यार्थियों की भागीदारी रही कार्यक्रम में शामिल सभी स्वयंसेवकों को ग्राम पंचायत की ओर से प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

बेटियों को मंत्री उमेश पटेल ने किया प्रेरित

अपने उद्बोधन के दौरान मंत्री उमेष पटेल ने प्रेरित करते हुए छात्राओं से कहा कि आप लोग अपनी प्रतिभा से बेटों को पीछे छोड़ सकते हैं इस पर छात्रों ने कहा कि हम भी पीछे नहीं तो मंत्री उमेष ने सुझाव दिया कि अगला कार्यक्रम दोनों के बीच प्रतियोगिता के साथ मूल्यांकन होगा। परंतु छात्र और छात्रा किसी के लिए आरक्षण की जरूरत नहीं होना चाहिए। इस पर दोनो पक्षों से जोरदार ताली बजी।