रायगढ़/ कोरोना के गम के बीच श्री बालाजी मेट्रो हॉस्पिटल में नवजात शिशु की गूंजी किलकारी ! कोरोना संक्रमित महिला ने दिया स्वस्थ बच्चे को जन्म ! धरती के भगवानों ने मां व बच्चा दोनों को दिया नवजीवन… पढ़े खबर..!

  • श्री बालाजी मेट्रो हॉस्पिटल में दूसरी मर्तबा कोविड पॉजिटीव महिला की हुई सफल डिलीवरी

रायगढ़, 29 अप्रैल। एक तरफ पूरा जिला कोरोना से जूझ रहा हैं तो वहीं दूसरी तरफ आज रायगढ़ के श्री बालाजी मेट्रो हॉस्पिटल से मन को सुकून देने वाली एक खबर आज सामने आई हैं। रायगढ़ श्री बालाजी मेट्रो हॉस्पिटल में एक कोरोना संक्रमित महिला ने एक स्वस्थ बच्चे ने जन्म दिया है।

विदित हो कि श्री बालाजी मेट्रो हॉस्पिटल रायगढ़ अपनी सेवा भाव के लिए जाना जाता है। कोरोना काल में इस अस्पताल से सैकड़ों मरीज स्वस्थ्य होकर वापस जा रहें हैं। एक तरफ कोरोना मरीजों की देखरेख करना कितना जोखिम भरा है ये किसी से भी नहीं छुपा है। कोरोना मरीजों को ठीक करना डॉक्टरों एवं स्वास्थ्य कर्मी के लिए बहुत बड़ा चैलेंज बनकर सामने आया है फिर भी अपने कर्तव्यों एवं दायित्वों का निर्वहन करते हुए श्री बालाजी मेट्रो हॉस्पिटल प्रबंधन 24 घंटे अनवरत कार्यरत है और कोरोना मरीजों के स्वास्थ्य को ठीक करने में दिन-रात एक कर रहे हैं। अस्पताल के डॉक्टर और स्टाफ कोरोना पॉजीटिव का पता होने के बावजूद भी अपने फर्ज से पीछे नहीं हट रहे हैं।

कोविड संक्रमित महिला की सफल डिलीवरी कराने में श्री बालाजी मेट्रो हॉस्पिटल के डॉक्टरों टीम ने पाई सफलता

एक तरफ कोरोना मरीजों को ठीक करने का चैलेंज तो वहीं दूसरी तरफ कोरोना पॉजिटिव महिला का सफल डिलीवरी कराना उससे बड़ा चैलेंज है। श्री बालाजी मेट्रो अस्पताल के डॉक्टरों ने बेझिझक व बेख़ौफ होकर अपना चिकित्सकीय दायित्व निभाते हुए महिला की सफल डिलीवरी करवाई है।

कोविड पॉजिटीव महिला की सफल डिलवरी कराने में जिले के एकमात्र Laparoscopic Gynic Surgen व श्री बालाजी मेट्रो हॉस्पिटल प्रसूति विभाग के प्रमुख Gynecologist डॉक्टर पुष्पलता जेना और उनकी टीम ने घण्टों पीपीई किट पहनकर अपनी अथाह परिश्रम से नवजात शिशु को नवजीवन देने व उसकी माता की रक्षा करने में सफलता प्राप्त की है। डॉक्टर पुष्पलता जेना Ovarian Cancer Cyst का ऑपरेशन भी करती है।

आपको बता दें कि श्री बालाजी मेट्रो हॉस्पिटल में इससे पहले भी कोविड पॉजिटीव महिला की सफल डिलीवरी की जा चुकी है। इस तस्वीर में खास बात यह है कि माँ व बच्चा पूरी तरह से सुरक्षित है फिलहाल सुरक्षा की दृष्टि से बच्चे को मां से अलग रखा गया है लेकिन बढ़ते कोरोना के बीच इस तस्वीर ने एक सकारात्मक माहौल जरूर बना दिया है।