पुलिस कंट्रोल रूम में रेंज आईजी द्वारा ली गई समीक्षा बैठक,अपराध नियंत्रण के साथ, यूथ के लिये बेतहर कार्य करने का दिये निर्देश..!


      रायगढ़ 15.01.2021-   सुबह 11:00 बजे पुलिस कंट्रोल रूम में पुलिस अधीक्षक रायगढ़ संतोष कुमार सिंह द्वारा जिले के पुलिस अधिकारियों के साथ अपराध समीक्षा बैठक लिया गया ।  पुलिस महानिरीक्षक बिलासपुर रेंज बिलासपुर रतनलाल डांगी के तय कार्यक्रम अनुसार करीब 16:00 बजे सड़क मार्ग से रायगढ़ पहुंचे । पुलिस कंट्रोल रूम में उन्हें सलामी गार्ड द्वारा सलामी दी गई पश्चात वे अपराध समीक्षा बैठक में सम्मिलित होकर अधिकारियों को महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिये हैं । 


          अपराध समीक्षा बैठक के पूर्व डांगी स्थानीय पत्रकारों से चर्चा कर अपना विजन बताया गया । श्री डांगी द्वारा समीक्षा बैठक में उपस्थित अधिकारियों को दिशा निर्देशित करते हुए कहा गया कि पुलिस का मुख्य कार्य समाज में शांति व्यवस्था बनाये रखने के साथ अपराध मुक्त रखना है । इस पर बेसिक तरीके से कार्य किया जा रहा है , इसे और हम सब मिलकर और बेहतर करेंगे परंतु वर्तमान में युवा वर्ग के साथ, युवा वर्ग के लिए कार्य करना आवश्यक है इसलिए जब भी समय मिले पुलिस अधिकारी यूथ के बीच जाकर उनके लिए कार्य करें , उन्हें गलत राह पर जाने से रोका जाए। इसलिए बेहतर होगा कि नशे के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही किया जाए । युवा वर्ग व अन्य लोगों के साथ नौकरी के नाम पर हो रही ठगी को गंभीरता से लें । महिला, नाबालिगों के अपराधों में समय सीमा में चालान न्यायालय पेश करने के दिशा निर्देश दिए गए हैं ।

पुलिस की छवि अच्छी हो सज्जन के सज्जनता से तथा क्रिमिनल के साथ सख्ती से पेश आए । आमजन को लगे कि पुलिस हमारे लिए है। पुलिस के विरुद्ध शिकायतें प्राप्त ना हो इस पर विशेष ध्यान दिया जावे । आमजन को अनावश्यक परेशान ना किया जाये । थाने में नाबालिक की रिपोर्ट पर तत्काल एफ.आई.आर दर्ज करें । थाना व थाना परिसर की साफ सफाई में विशेष ध्यान दिया जावे । पुलिस अधिकारी का लुक आउट बेहतर हो । थाना, चौकी प्रभारी का स्टाफ पर नियंत्रण हो ।           

इसके पूर्व अपराध समीक्षा बैठक में एसपी रायगढ़ संतोष सिंह द्वारा वर्ष 2019 एवं 2020 में किए गए कार्यों की तुलनात्मक समीक्षा की गई तथा अधिकारियों को इस वर्ष नई ऊर्जा के साथ पुलिसिंग को और भी बेहतर करने के दिशा निर्देश दिए गए हैं । अधिकारियों से चर्चा दौरान उन्होंने हाल ही में चोरी की बाइक रिकव्हर करने वाली टीमों को आरोपियों द्वारा बाइक जहां खपाया जा रहा है,  उस ओर जांच करने के दिशा निर्देश दिए गए । उन्होंने बताया कि अभियान चलाकर ड्रग्स के विरुद्ध कार्यवाही की जावेगी । बच्चों को नशे से दूर रखना है इसलिए थाना चौकी प्रभारी इन्हें ऐसे आपत्तिजनक सामग्रियां कहां से प्राप्त होती है इस और जांच बढ़ाएं । लंबित धोखाधड़ी के मामले की विस्तृत समीक्षा के लिए एडिशनल एसपी को निर्देशित किया गया । उनके द्वारा किसी भी शिकायत पर अपराध दर्ज करने हैं तो तत्काल दर्ज करने निर्देशित किया गया है।

आने वाले दिनों के प्लान पर चर्चा कर बताएं कि यातायात सप्ताह चलाया जाना है, यातायात सप्ताह शहर में ही सीमति ना हो डिवीजन में भी यातायात सप्ताह बेहतर तरीके से किया जावे एसडीओपी स्वयं ध्यान देवें । ग्राम रक्षा समिति, शांति समिति में नए सदस्यों को जोड़ने तथा आने वाले दिनों में पुलिस चौपाल लगाए जाने को लेकर थाना, चौकी प्रभारियों को तैयारी करने को कहा गया है । इस साल माह मार्च में मुस्कान अभियान चलाये जाने की जानकारी देते हुए सभी थाना, चौकी प्रभारियों को अधिक से अधिक गुम बच्चों की रिकव्हरी  का टारगेट समीक्षा बैठक में दिया गया है । पुलिस अधीक्षक द्वारा एक्सीडेंट मामलों में लाइसेंस निरस्तीकरण की कार्यवाही संतोषजनक ना पाकर थाना, चौकी प्रभारियों को फटकार लगाया गया । अंत में उनके द्वारा सभी प्रभारियों को स्टॉफ पर नियंत्रण रखने एवं किसी की भी स्टाफ की शिकायत को इग्नोर ना कर अवगत कराने निर्देशित किया गया है। समीक्षा बैठक में सभी राजपत्रित पुलिस अधिकारियों के साथ थाना, चौकी,  शाखा प्रभारीगण उपस्थित थे ।