रायगढ़/ नवापारा (अ) ओपन चैलेंज क्रिकेट टूर्नामेंट में ब्वॉयज क्लब रायगढ़ बनी चैंपियन ! छिछौरउमरिया रायगढ़ को 53 रनों से हराकर खिताब पर किया कब्जा..!

रायगढ़ । रायगढ़ से 18 किलोमीटर दूर पुसौर के नजदीक स्थित ग्राम नवापारा (अ) में मां समलेश्वरी क्रिकेट समिति द्वारा आयोजित ओपन चैलेंज टेनिस बॉल क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन दिनांक 21 दिसम्बर 2020 को प्रारम्भ हुआ और 01 जनवरी 2021 को प्रतियोगिता का खिताबी मुकाबले के साथ समापन समारोह आयोजित किया गया था। इस प्रतियोगिता में रायगढ़ जिले के अलावा उड़ीसा समेत कुल 30 टीमों ने पार्टिसिपेट किया था। इन 30 टीमों में प्रतियोगिता की दो सर्वश्रेष्ठ टीम ब्वॉयज क्लब और छिछौरउमरिया टीम के बीच खिताबी मुकाबला हुआ। आपको बता दें की ब्वॉयज क्लब रायगढ़ ने प्रतियोगिता के सेमीफायनल में रायगढ़ ब्लास्टर को हराते हुए फाइनल में अपना स्थान सुनिश्चित किया था तो वहीं छिछौरउमरिया ने घुटकुपाली को पराजित कर फायनल में स्थान बनाया।

नवापारा (अ) के मैदान में दूसरे राज्य के खिलाड़ियों समेत जिले के नामचीन खिलाड़ियों ने शिरकत कर टूर्नामेंट का बढ़ाया गौरव

विदित हो की इस प्रतियोगिता में ब्वॉयज क्लब, एमएससी रायगढ़, उड़ीसा वारियर्स, आरआर गोल्ड, जीएसएस पॉली एकादश, बीजना, घुटुकुपाली, कलमी, ड्रीम क्रिकेट क्लब खरसिया, पामगढ़, ब्वॉयज जोन जैसी बड़ी – बड़ी टीमों के अलावा ग्रामीण क्षेत्र की डेढ़ दर्जन से अधिक टीमों बेहतरीन टीमों ने भाग लिया था। इस प्रतियोगिता में जिले के अलावा इंदौर, बिलासपुर, राऊरकेला, ब्रजराजनगर, झारसुगुड़ा, सारंगढ़ के नामी खिलाड़ी भी शिरकत करते नजर आए जो दर्शकों के आकर्षण का प्रमुख केंद्र रहे। ख्यातिलब्ध खिलाड़ियों के खेलने से टूर्नामेंट के सफलता में चार चांद लगे गए। क्रिकेट जगत के नामचीन खिलाड़ियों के बीच जब प्रतिस्पर्धा हो रहा था तो उन्हें खेलते हुए देखना दर्शकों के लिए कौतूहल का विषय बन गया। जिले के इस खिताबी फायनल मुकाबले में ब्वॉयज क्लब की तरफ से प्रसिद्ध खिलाड़ी राजा गोरख, विकास पाण्डेय, सचिन मिश्रा, बल्लू, अभिषेक, कपिल, नानकान, आनंद सागर, चिराग, लखन, दीपक व अभिषेक नजर आए तो वहीं छिछौरउमरिया टीम की ओर से डिग्गी, कौशल सिदार, मजनू, प्रकाश, राहुल, छोटु, बबलू, प्रवीण, प्रताप, रमेश व कौशल पी शिरकत करते नजर आये।

ब्वॉयज क्लब vs छिछौरउमरिया फायनल मुकाबला

पहली पारी :

फाइनल मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए ब्वॉयज क्लब की ओर से पारी की शुरुआत करने आये राजा गोरख और विशाल ने सम्भल कर खेलते हुए पारी की धीमी शुरुआत किया। ब्वॉयज क्लब का पहला विकेट 15 रन पर विशाल के रूप में गिरा। विशाल मात्र 04 बनाकर डिग्गी की गेंद पर बोल्ड होकर आऊट हो गए। उनका जगह लेने आये बल्लू और राजा के पार्टनरशीप होना शुरू हो गया। राजा गोरख जमने के बाद 20 रन पर आऊट हो गए। राजा को गेंदबाज छोटु ने आऊट किया। राजा के आऊट होने पर दीपक बल्लेबाजी के लिए आये लेकिन वे भी कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाए और मात्र 05 रन पर कौशल पी की बॉल पर आउट हो गए। 03 विकेट के नुकसान पर ब्वॉयज क्लब की टीम का स्कोर 41 रन हो चुका था। अब दीपक का स्थान लेने आये अभिषेक लेकिन वे इस मैच में केवल 02 रन पर कौशल पी की बॉल पर डिग्गी को कैच थमा बैठे। 43 रन पर 04 विकेट खो चुकी ब्वॉयज क्लब की टीम मझदार में फंस चुकी थी। तभी कप्तान सचिन ने मिडिल आर्डर के प्रमुख बल्लेबाज विकास पाण्डेय को पारी संभालने हेतू भेजा। विकास ने संयमपूर्वक बल्लेबाजी करते हुए छोटी छोटी पार्टनरशीप पर ध्यान केंद्रित किया और टीम को मझदार से निकालने का प्रयास किया लेकिन उनके सामने बल्लेबाज बल्लू जो बढ़िया बल्लेबाजी कर रह थे 32 रन पर आउट हो गये। बल्लू को कौशल पी ने आउट किया। बल्लू के आउट होने के बाद कप्तान सचिन मिश्रा शून्य पर कौशल पी के शिकार बने। 58 रनों पर ब्वॉयज क्लब के 6 बल्लेबाज पवेलियन चले गए थे। छिछौरउमरिया के गेंदबाज ब्वॉयज क्लब के बल्लेबाजों को खुलकर खेलने का मौका नहीं दे रहें थे। इसी बीच कपिल ने एक ओवर में 2 गगनचुम्बी छक्के जड़कर मैच में रन गति बढ़ाने का प्रयास किया लेकिन कपिल ज्यादा कुछ कर पाते इससे पहले ही कौशल एस ने उन्हें बोल्ड कर उनकी पारी समाप्त कर दी। 70 रन पर ब्वॉयज क्लब के 7 विकेट गिर चुके थे। लगातार विकेट गिर रहे विकास एक तरफ खड़े थे उनका साथ देने के लिए लखन आये। अब पूरी जिम्मेदारी इन दोनों की जोड़ी पर ही थी। विकास और लखन ने पारी को रन गति देना शुरू किया। विकास व लखन के मध्य 43 रनों की साझेदारी हुई। विकास ने अपनी टीम के लिए महत्वपूर्ण समय पर रन 33 बनाए। अंतिम ओवर में आनंद ने दो गगनचुम्बी छक्के जड़ दिए। इस प्रकार विकास, लखन व आनंद की बल्लेबाजी ने अंतिम 05 ओवरों में 73 रन जोड़कर टीम का कुल स्कोर 143 रनों पर पहुँचा दिया और 144 रनों का लक्ष्य विपक्षी टीम के सामने रखा।

दूसरी पारी :

144 रनों के लक्ष्य का पीछा करने के लिए छिछौरउमरिया के कप्तान मजनू ने सलामी जोड़ी के रूप में प्रकाश व बबलू को भेजा। सलामी बल्लेबाज प्रकाश बिना खाता खोले लखन की गेंद पर कैच आऊट हो गए। उनका स्थान लेने आये प्रवीण भी कुछ खास नहीं कर पाए और वे भी शून्य पर चिराग के शिकार बने। मात्र 14 रनों पर दो विकेट खो चुकी छिछौरउमरिया की टीम तीसरा झटका महज 19 रनों पर लगा जब उनके प्रमुख बल्लेबाज कौशल एस मात्र 4 रन के निजी स्कोर पर राजा गोरख की बॉल पर बोल्ड हो गए। उनका स्थान लेने आये बल्लेबाज प्रताप ने बबलू का साथ देते हुए पार्टनरशिप बिल्ट करना शुरू कर दिया और दोनों के बीच 19 रनों की साझेदारी हुई। इस साझेदारी को गेंदबाज आनद सागर ने बबलू को आऊट कर तोड़ दिया। बबलू ने अपनी टीम के लिए 18 रनों की पारी खेली। उनका स्थान लेने आये क्षेत्र के मशहूर बल्लेबाज डिग्गी भी कुछ खास नहीं प्रदर्शन नहीं कर पाए और मात्र 05 रन पर चिराग की गेंद पर विशाल को कैच थमा बैठे। डिग्गी के आऊट होने के बाद नए बल्लेबाज कौशल पी शून्य पर कपिल की गेंद पर बोल्ड हो गए।छिछौरउमरिया की ओर से कौशल पी 04, छोटु 02, डिग्गी 01, कौशल एस 01 और रमेश ने 01 विकेट हासिल किया। 70 रनों पर 7 विकेट खो चुकी छिछौरउमरिया की टीम अंतिम क्षणों तक इस स्थिति से नहीं उबर पाई ब्वॉयज क्लब के गेंदबाजों ने अंतिम 03 विकेट मजनू छोटु और रमेश को 20 रनों के भीतर ही पवेलियन का रास्ता दिखा दिया। इस प्रकार कुल 90 रनों के स्कोर पर छिछौरउमरिया की टीम आलआऊट हो गयी और ब्वॉयज क्लब ने इस खिताबी मुकाबले को 53 रनों से जीत कर विजेता बनने का गौरव हासिल किया । ब्वॉयज क्लब की ओर राजा गोरख 03, चिराग 03, आनंद 01, लखन 01 के साथ कपिल ने 01 हासिल किया।

अतिथियों के रूप में क्षेत्र के जनप्रतिनिधी हुए शामिल

इस भव्य टूर्नामेंट के समापन समारोह में अतिथि के रूप में ग्राम नवापारा सरपंच महादेव चौहान के साथ कोड़पाली सरपंच संघ के अध्यक्ष वीरेंद्र गुप्ता, उपसरपंच विजय गुप्ता, सुनील साहू, राजीव खम्हारी, रेंगालपाली सरपंच राकेश साव, घुटकुपाली सरपंच रमेश चौहान, प्रदीप प्रधान, कन्हैया प्रधान, रायगढ़ टेनिस बॉल क्रिकेट संघ के अध्यक्ष जावेद खान एवं क्षेत्र के वरिष्ठ खिलाड़ी सुरेंद्र पाल सिंह बल समेत अन्य कई अतिथिगण उपस्थित रहें। उपस्थित सभी अतिथियों के कर कमलों से प्रतियोगिता के प्रत्येक पुरस्कारों का वितरण कर खिलाड़ियों के साथ कर्मठ सदस्य निर्णायक को भी सम्मानित किया गया।

प्रतियोगिता में हुई इनामों की बौछार

इस प्रतियोगिता में विजेता टीम को ₹25001 नगद एवं ट्रॉफी के साथ सम्मानित किया गया तो वहीं उपविजेता टीम को ₹15001 नगद एवं ट्रॉफी के साथ सम्मानित किया गया। व्यक्तिगत पुरस्कारों की इस प्रतियोगिता में भरमार देखी गई। इस प्रतियोगिता के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के रूप में छिछौरउमरिया के हरफनमौला खिलाड़ी कौशल सिदार को रेंजर सायकल व ट्रॉफी के साथ पुरस्कृत किया गया तो वहीं टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के रूप में कलमी एकादश के रवि दास महंत को ट्रॉफी व बल्ला देकर पुरस्कृत किया गया। सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज के रूप में छिछौरउमरिया के खिलाड़ी डिग्गी, सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडर के रूप में ब्वॉयज क्लब के खिलाड़ी कपिल, टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ कप्तान के रूप में ब्वॉयज क्लब के खिलाड़ी सचिन मिश्रा, सबसे बढ़िया रिवर्स शाट्स खेलने के लिए रायगढ़ ब्लास्टर के विश्वास, सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर के रूप में ब्वॉयज क्लब के अभिषेक तथा फायनल मैच के मैन ऑफ द मैच के रूप में राजा गोरख को पुरस्कृत किया गया। फायनल मैच में हैट्रिक विकेट लेने पर आनंद सागर को तथा बेस्ट कैच ऑफ द टूर्नामेंट का पुरस्कार जीएसएस पाली एकादश के कप्तान सुरेंद्र पाल सिंह को देकर पुरस्कृत किया गया। बेस्ट दर्शक के रूप में ललित गुप्ता, चंदन सिंह, मनीजर प्रधान व विशेषश्वर गुप्ता, बेस्ट कार्यकर्ता अंश गुप्ता, सुमित सिदार, प्रणव होता, बेस्ट स्कोरर दीपक गुप्ता, रोहन खड़िया, संतोष माण्डा, शिवाशीष गुप्ता, बेस्ट कमेंट्रेटर गौरांग गुप्ता, मनोज चौहान, भरत गुप्ता, अरुण देहरी, बेस्ट निर्णायक अशोक यादव, अजय गुप्ता, अमित माण्डा, अमन गुप्ता

गौरांग की कमेंट्री व मंच संचालन ने बांधा शमां तो डीजे की धुन से नाच उठे दर्शक

इस पूरे प्रतियोगिता में मां समलेश्वरी क्रिकेट समिति के अहम सदस्य एवं युग प्रभात समिति के अध्यक्ष एवं पिछले वर्षों में हुए आमंत्रण कप आयोजन समिति के अध्यक्ष गौरांग गुप्ता की कमेंट्री ने दर्शकों के साथ- साथ खिलाडियों का भी मन मोह लिया। गौरांग गुप्ता की कमेंट्री दर्शकों को अपनी ओर मंत्रमुग्ध कर आकर्षित कर रहा था। समापन समारोह में मंच संचालन गौरांग गुप्ता ने किया। इस पूरे प्रतियोगिता में विनायक सथपथी एन्ड मां समलेश्वरी समिति की पूरी टीम की मेहनत व लगगन के कारण इस प्रतियोगिता की सफलता रायगढ़ जिले के अलावा उड़ीसा के बेलपहाड़, ब्रजराजनगर, झारसुगुड़ा, न्यायधानी बिलासपुर एवं मिनी मुम्बई कहे जाने वाले मध्यप्रदेश के इंदौर तक जा पहुंची है। प्रत्येक चौके, छक्के एवं विकेट गिरने पर डीजे की ध्वनि पूरे मैदान में गूंज रही थी। जिसका सभी दर्शकों एवं खिलाड़ियों ने भरपूर आनंद लिया। नए वर्ष के पहले दिन नवापारा (अ) के इस बेहतरीन टूर्नामेंट के सफल आयोजन की हर कोई तारीफ कर रहा है। जो खिलाड़ी इस प्रतियोगिता में खेल चुके हैं उन्हें अब आने वाले अगले टूर्नामेंट का बेसब्री से इंतजार रहेगा।

नियमों के कड़ाई से पालन व अनुशासन के कारण टूर्नामेंट की चहुँओर हो रही प्रशंसा

आपको बता दें की इस प्रतियोगिता में क्रिकेट के सभी नियमों का बेहद अनुशासनात्मक रूप से पालन किया गया। सभी टीमों को गणवेश में आने हेतू अनिवार्य किया गया था तथा निर्धारित समय पर मैच शुरू होने के साथ – साथ आईसीसी के समस्त नियमों का खासकर पगबाधा का नियम इस प्रतियोगिता के आयोजन के दौरान आकर्षण का प्रमुख केंद्र रहा। यदि किसी टीम ने प्रतियोगिता के किसी भी नियम का उल्लंघन किया है तो उन्हें पेनाल्टी के तौर पर 5 से 10 रनों की सजा भी दी गई। इसका फायदा यह हुआ कि प्रतियोगिता में प्रत्येक मैच समय से शुरू हुआ सभी टीमों ने गणवेश नियमों का पालन किया, अनुशासित रहे और किसी भी प्रकार का कोई विवाद नहीं हुआ जिसके कारण हर मैच दर्शनीय व शांतिपूर्ण तरीके से सफल रहा।

पुरस्कारों की कुछ यादगार तस्वीरें

मैन ऑफ द सीरीज – कौशल सिदार
बेस्ट बॉलर ऑफ द टूर्नामेंट डिग्गी
बेस्ट आल राउंडर ऑफ द टूर्नामेंट कपिल दास
बेस्ट विकेट कीपर ऑफ द टूर्नामेंट अभिषेक
बेस्ट कैप्टन ऑफ द टुर्नामेंट – सचिन मिश्रा
बेस्ट कैच आफ द टूर्नामेंट  – सुरेंद्र पाल सिंह
फायनल मैच मैन ऑफ द मैच – राजा गोरख
विजेता टीम ब्वॉयज क्लब