जैविक जवाफूल चावल के प्रदर्शनी को मिला लोगों का जबरदस्त.. रिस्पांस..किसानों ने 6 घंटे में बेचा 3 लाख का चावल..आज भी जारी रहेगी प्रदर्शनी..!

रायगढ़, 12 जनवरी2021/ कलेक्ट्रेट परिसर में लैलूंगा क्षेत्र के प्रसिद्ध जैविक जवाफूल चावल की प्रदर्शनी को जबरदस्त रिस्पांस मिला है। कलेक्ट्रेट के अधिकारी-कर्मचारियों के साथ शहरवासियों ने बढ़-चढ़कर खरीददारी की है। किसानों ने 6 घंटे में लगभग 3 लाख रुपये का 2 हजार किलो चावल बेच लिया। लोगों के इस उत्साह को देखते हुये यह प्रदर्शनी आज 13 जनवरी को भी सुबह 11 से शाम 4 बजे तक जारी रहेगी।
कलेक्टर श्री सिंह ने स्टॉल में पहुंचकर किसानों से उनके अनुभव जाने। लैलूंगा से आये किसानों ने इस पहल के लिये कलेक्टर श्री सिंह का आभार जताते हुये कहा कि-आपके सहयोग से हम सीधे ग्राहकों से जुड़ पाये व अपनी उपज का सही दाम हाथों में आया। यह एक शानदार अनुभव है। कलेक्टर श्री सिंह ने इस अवसर पर कहा कि यह एक शुरूआत है आगे यहां के जवाफूल चावल को इससे बड़े स्तर पर पहुंचायेंगे। यह रायगढ़ जिले की पहचान बनेगा। इसके लिये उन्होंने एक सप्लाई चैन विकसित करने की बात कही। उन्होंने बताया कि किसानों को जल्द ही एक मिनी मिलिंग यूनिट व स्टोरेज के लिये गोदाम भी प्रदान किया जायेगा।

पहाड़ लूड़ेग से पहुंचे किसान श्री संतोष कुमार ने बताया कि आज उनके एफपीओ ने लगभग 75 हजार रुपये का चावल यहां बेचा है। हमारी उम्मीद से कहीं अधिक लोग जवाफूल चावल खरीदने पहुंचे, यह देखकर बहुत अच्छा लगा। उल्लेखनीय है कि लैलूंगा के 5 एफपीओ केलो लैलूंगा कृषक सुगंधित जैविक धान उत्पादक संगठन, केलो श्री कुबेर कृषक जैविक उत्पाद संगठन राजपुर, केलो कृषक जैविक उत्पादक संगठन केशला, केलो श्री सतीमाता कृषक जैव उत्पाद संगठन कोड़ासिया तथा केलो पहाड़ लुड़ेग कृषक सुगंधित जैविक धान उत्पादक संगठन के किसान यहां अपने जैविक जवाफूल चावल बेचने पहुंचे थे। वर्तमान में लैलूंगा के आसपास लगभग 200 हेक्टेयर में जवाफूल की खेती की जा रही है जिसे बढ़ाकर लगभग 1500 से 2000 हेक्टेयर करने का लक्ष्य रखा गया है। कलेक्टर श्री भीम सिंह की पहल पर इसके लिये डीएमएफ से राशि भी इन एफपीओ को प्रदान की गई है।