ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती दे रही है हमारी योजनायें- उच्च शिक्षामंत्री उमेश पटेल ! खरसिया विकासखण्ड के विभिन्न ग्रामों में 49 लाख के विकास कार्यों का किया लोकार्पण..!

मंत्री श्री पटेल ने जनसंपर्क कर जानी लोगों की मांगें व समस्यायें..!

निराश्रित व विधवा पेंशन हेतु हितग्राहियों के पंजीयन के लिये गांवों में कैम्प लगाने के दिये निर्देश..!

रायगढ़, 5 जनवरी। उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल ने खरसिया विकासखण्ड के विभिन्न ग्रामों में जनसंपर्क किया तथा 49 लाख रुपये की लागत के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण भी किया।

इस दौरान उन्होंने ग्रामवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार गांव और गांव वासियों के विकास को ध्यान में रख के ही योजनाओं का निर्माण और क्रियान्वयन कर रही है। बात चाहे धान के प्रति क्विंटल 2500 रुपये देने की हो, बिजली बिल आधा करने की हो या फिर सुराजी ग्राम योजनाओं के तहत ग्रामीण परिवेश के संसाधनों से स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराने की हो, सभी का एकमेव लक्ष्य ग्रामीण अर्थव्यवस्था की मजबूती है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण जरूरत के अनुरूप अधोसंरचनात्मक विकास के लक्ष्यों को भी तेजी से पूरा किया जा रहा है। इस जनसम्पर्क का उद्देश्य लोगों के बीच जाकर उनकी समस्याओं और जरूरतों को समझना है, ताकि उसके अनुसार कार्ययोजना बनाकर विकास कार्यों को और गति दी जा सके।

इस दौरान मंत्री पटेल के समक्ष ग्रामीणजनों ने अपनी मांगें व समस्याएं भी रखीं। जिनमें प्रमुख रूप से निराश्रित व विधवा पेंशन की मांग, राशन कार्ड निर्माण, सीसी रोड व सामुदायिक भवन निर्माण की मांग लोगों ने की। मंत्री श्री पटेल ने लोगों की समस्याओं को सुनकर उनके त्वरित निराकरण के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया तथा मांगों को शीघ्र पूर्ण करने का आश्वासन भी दिया।

इस दौरान उन्होंने ग्राम झिटीपाली में सामुदायिक भवन निर्माण की घोषणा भी की। उन्होंने निराश्रित व विधवा पेंशन से जुड़े प्रकरणों में पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित करने के निर्देश दिए। इसके लिए गांवों में कैम्प लगाकर ग्रामवासियों को प्रक्रिया की पूरी जानकारी देकर आवेदन लेने के लिए कहा, जिससे उन्हें शीघ्र पेंशन योजना का लाभ मिल सके। कई गरीबी रेखा से नीचे वाले लोगों के एपीएल कार्ड बन गये है उसकी जानकारी एकत्र करके त्रुटि सुधार करने के निर्देश भी उन्होंने अधिकारियों को दिये।

इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष निराकार पटेल, जिला पंचायत सदस्य अवधराम पटेल, जनपद पंचायत खरसिया उपाध्यक्ष कृष्ण कुमार पटेल, जनपद सदस्य सुनीता राठिया, जनपद सदस्य चंद्रमणी राठिया, सरपंच ग्राम पंचायत दर्रामुड़ा वृन्दा राठिया, सरपंच ग्राम पंचायत जबलपुर डोरीलाल राठिया सहित विभिन्न जनप्रतिनिधि व ग्रामीणजन उपस्थित रहे।

इन कार्यों का हुआ लोकार्पण-

दर्रामुड़ा में आंगनबाड़ी केन्द्र लागत-6.45 लाख रुपये, भगोराडीह में सीसी रोड निर्माण लागत-7.80 लाख रुपये, कोंहारडीपा में सीसी रोड निर्माण लागत-7.80 लाख रुपये, जबलपुर में सामुदायिक भवन लागत-5.00 लाख रुपये, झिटिपाली में सीसी रोड लागत-7.00 लाख रुपये, गिन्डोला में आंगनबाड़ी लागत-6.45 लाख रुपये तथा सांस्कृतिक मंच लागत-0.75 लाख रुपये तथा बिंजकोट में सीसी रोड निर्माण लागत-7.80 लाख रुपये का लोकार्पण किया गया।

जब राज से मंत्री श्री पटेल ने पूछा कैसी चल रही है पढ़ाई.!

ग्राम-भगोराडीह में जनसंपर्क के दौरान कक्षा 5 वीं का छात्र राज सारथी भी वहां मौजूद था। मंत्री श्री पटेल ने राज को पास बुलाकर पूछा कि पढ़ाई कैसी चल रही है। राज ने बताया कि अभी तो स्कूल बंद है लेकिन ऑनलाईन और मोहल्ला क्लास के जरिये पढ़ाई हो रही है। मंत्री श्री पटेल ने बच्चे को मन लगाकर पढऩे के लिये प्रोत्साहित किया और उज्जवल भविष्य की शुभकामनायें दी।