ISRO की चयन परीक्षा में दुर्ग की सृष्टि ने किया पूरे देश में टॉप, CM ने ट्विटर पर लिखा आप छत्तीसगढ़ का गौरव हो..! पढ़ें पुरी खबर..!

भिलाई / इंडियन स्पेस रिसर्च आर्गेनाईजेशन (ISRO) की चयन परीक्षा में दुर्ग के पद्मनाभपुर की रहने वाली सृष्टि बाफना ने पूरे देश में पहला स्थान हासिल किया है। लगभग दो लाख युवाओं को पछाड़ते हुए सृष्टि ने टॉप करके छत्तीसगढ़ का मान बढ़ाया है। सृष्टि की उपलब्धि से गदगद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी ट्वीट कर सृष्टि और उसके परिवार को बधाई दी। साथ ही लिखा कि आप छत्तीसगढ़ का गौरव और देश का अभिमान हैं। मैं आपके उज्जवल भविष्य की कामना करता हूं। बता दें कि इसरो की राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित वैज्ञानिक (सिविल) चयन परीक्षा में सृष्टि बाफना ने यह उपलब्धि हासिल की है।

जनरल कैटेगरी में किया टॉप..!

सृष्टि का सिविल इंजीनियरिंग में स्पेशलाइजेशन है। इसलिए वह इस परीक्षा में शामिल हुई थी। पूरे देश से करीब 1 लाख से 80 हजार प्रतिभागी इस परीक्षा में शामिल हुए थे। लिखित परीक्षा के बाद इंटरव्यू के लिए 124 प्रतिभागियों का चयन हुआ था। फिर अंतिम रूप से 11 लोगों का चयन हुआ है। सृष्टि ने जनरल कैटेगरी में पहला स्थान हासिल किया है। यह परीक्षा साल 2020 में आयोजित हुई थी। लेकिन कोविड-19 की वजह से इंटरव्यू आयोजित नहीं हो पाया था। इस साल 5 फरवरी को इंटरव्यू हुआ। उसके बाद फाइनल रिजल्ट आया है।

इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन(ISRO) की चयन परीक्षा में दुर्गा के पह्नानाभपूर की रहने वाली सृष्टि बाफना ने पूरे देश में पहला स्थान हासिल किया है।

बीआईटी दुर्ग से की सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई..!

इसरो की परीक्षा में देशभर में टॉप करने वाली सृष्टि शुरू से ही होनहार छात्रा रही है। उन्होंने 12 वीं बोर्ड के बाद बीआईटी दुर्ग से सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई की। उसके बाद आईआईटी दिल्ली से एमटेक किया है। सृष्टि बचपन से ही स्पेस रिसर्च से जुडऩा चाहती थी। इसलिए कई सालों से इसरो की चयन परीक्षा की तैयारी कर रही थी। मीडिल क्लास फैमिली से ताल्लुक रखने वाली सृष्टि के पिता मोती बाफना व्यवसायी और माता प्रभा बाफना हाउस वाइफ है।