बालोद पुलिस द्वारा धोखाघड़ी के आरोपी को दुर्ग से किया गिरफ्तार।

नौकरी लगाने के नाम पर 52 लोगों से 26,98,500 रूपये लेकर किया गया ठगी।

एस.पी, कलेक्टर ,राज्यपाल से जान-पहचान बताकर भोले-भाले ग्रामीण लोगों को बनाता था निशाना।

शासकीय विभाग जैसे पी.डब्लू.डी,पी.एच.ई व वन विभाग में कोटे का पद में नौकरी लगाने का देता था झांसा।

आरोपी द्वारा बालोद जिले के अलावा अन्य जिला धमतरी एवं राजनांदगांव के लोगों से भी किया है ठगी।

दुर्ग 14 फरवरी 2021:- दिनांक 09.02.2021 को थाना डौण्डीलोहारा में प्रार्थी विश्राम सिंह निषाद पिता स्व. सुदंरू राम निषाद पता-ग्राम कोटेरा थाना डौण्डीलोहारा जिला बालोद ने थाने में लिखित शिकायत दिया कि सतीश उपाध्याय पिता स्व.ओंकार नाथ उपाध्याय निवासी दल्लीराजहरा के द्वारा एस.पी, कलेक्टर और राज्यपाल से जान पहचान है कहकर प्रार्थी से उनकी बेटी, बेटा, व नाती तथा पडा़ेस के लोगों व डौण्डीलोहारा के आस-पास के ग्राम सोरली, खेरथा, संबलपुर ,कोबा,भैंसबोड, फिरतुटोला, संजारी, कोरगुडा, कामता, आलीखूटा, किल्लेकाड़ा, चंदिया, लाटाबोड, खैरा, मनकी के अलावा अन्य जिला धमतरी , राजनांदगांव के भी लोगों से पी.डब्लू.डी,पी.एच.ई व वन विभाग मे शासकीय नौकरी लगाने के नाम पर झांसा देकर कुल 26,98,500 रूपये लेकर ठगी किया गया है। जिसकी शिकायत पर थाना डौण्डीलोहारा में अपराध क्रमांक- 38/2021, धारा -420 भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया।

मामले को गंभीरता से लेते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र सिंह मीणा के निर्देशन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डी.आर पोर्ते के मार्गदर्शन मे नगर पुलिस अधीक्षक अब्दुल अलीम खान के पर्वेक्षण में थाना डौण्डीलोहारा एवं सायबर सेल की विशेष टीम गठित कर थाना प्रभारी डौण्डीलोहारा मनीष शर्मा, निरीक्षक रोहित मालेकर के नेतृत्व में टीम गठन किया गया। उक्त टीम द्वारा आरोपी के पतासाजी हेतु दल्लीराजहरा आरोपी के घर जाने पर आरोपी द्वारा अपने मोबाईल को बंद कर फरार हो गया था। आरोपी के पता तलाश हेतु मुखबीर लगाया गया तथा सायबर सेल से तकनीकी रूप से पतातलाश किया जाने लगा ।

खबीर के माध्यम से सुचना प्राप्त हुई कि आरोपी ठगी करने के पश्चात से अन्य जिलों के होटल ,लाॅज मे छीप कर रह रहा है। जिसे पतासाजी हेतू टीम रवाना किया गया। टीम द्वारा लगातार प्रयास एवं मेहनत कर प्रकरण के आरोपी सतीश उपाध्याय को जिला दुर्ग से गिरफ्तार किया गया। आरोपी के कब्जे से नगदी 7,80,000 रूपये जप्त किया गया है।

उक्त धोखाधडी के आरोपी की गिरफ्तारी में थाना प्रभारी डौण्डीलोहारा मनीष शर्मा, निरीक्षक रोहित मालेकर थाना प्रभारी गुण्डरदेही ,सउनि अजित महोबिया ,सायबर सेल के प्रधान आरक्षक रूमलाल चुरेन्द्र, आरक्षक विपिन कुमार गुप्ता , आरक्षक पूरन देवंगन, आरक्षक मिथलेश यादव की सराहनीय भूमिका रही है।
गिरफ्तार आरोपी- नाम- सतीष उपाध्याय पिता- स्व.ओंकार नाथ उपाध्याय, उम्र-45 वर्ष
वर्तमान पता- क्वा.न.166 ए -1 एम.ए टाईप स्ट्रीट न.18 टाउनशिप दल्लीराजहरा जिला-बालोद (छ.ग.)
मूल निवासी- ग्राम-गाजीपुर, थाना-गाजीपुर जिला-गाजीपुर (उत्तरप्रदेश)