उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल ने कोरोना प्रबंधन को लेकर ली वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से समीक्षा बैठक….कोविड हॉस्पिटल में डॉक्टर व नर्सिंग स्टाफ में तेजी से बढ़ाये… नर्सिंग और मेडिकल स्टाफ के 598 पदों की भर्ती जल्दी पूरा करने दिए निर्देश..!

रायगढ़, 1 मई 2021। उच्च शिक्षामंत्री श्री उमेश पटेल ने एक बार फिर से आज वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिले में कोविड संक्रमण से निपटने एवं रोकने के प्रयासों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन बेड की संख्या तेजी बढ़ायी जा रही है अगले हफ्ते तक हम 1 हजार से 11 सौ ऑक्सीजन बेड संचालन की स्थिति में होंगे तो उसी अनुसार तेजी से मेडिकल स्टाफ एवं मानव संसाधन भी बढ़ाया जाना है। उन्होंने शासन द्वारा पदस्थ किये गये डॉक्टर्स की जल्द ज्वानिंग करवाने के साथ ही जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा किये जा रहे है नर्सिंग व अन्य मेडिकल स्टाफ के 598 पदों के भर्ती का कार्य भी अगले तीन-चार दिनों में पूरा करने के लिए कहा। उन्होंने पीपीई किट, एन-95 ट्रिपल लेयर मास्क एवं अन्य सुरक्षा सामग्री की डीएमएफ से पर्याप्त मात्रा में खरीदी करने के लिए कहा। लक्षण युक्त मरीजों को दिये जाने वाले दवाई की किट का वितरण सभी ग्रामों में करने के निर्देश दिये। साथ ही इन किट में दिये जाने वाले दवाओं का पर्याप्त स्टॉक भी विभाग को रखने के लिये कहा। उन्होंने निजी अस्पतालों में भी ऑक्सीजन बेड बढ़ाने का कार्य तेजी से पूरा करने की बात कही।

उच्च शिक्षामंत्री श्री पटेल ने जिले में वर्तमान में तैयार किये गये बेड की संख्या, ऑक्सीजन सिलेण्डर की व्यवस्था एवं उसकी रिफलिंग की जानकारी ली। उच्च शिक्षामंत्री श्री पटेल ने कहा कि ऑक्सीजन बेड तैयार करने के साथ उसके लिये जरूरी डॉक्टर्स व मेडिकल स्टाफ के साथ सिलेण्डर तथा उसकी रिफलिंग की व्यवस्था भी सुचारू रूप से संचालित हो। कलेक्टर श्री सिंह ने जानकारी देते हुये बताया कि जिले में ऑक्सीजन बेड अभी पर्याप्त मात्रा में संचालित है। निजी अस्पतालों को भी अधिकतम क्षमता के साथ कोविड मरीजों के ऑक्सीजन बेड की संख्या बढ़ाने के निर्देश दे दिये गये है। मेडिकल कालेज में ऑक्सीजन प्लांट की क्षमता बढ़ायी जा रही है। इससे वहां पाइप लाइन से सप्लाई होने वाले 100 अतिरिक्त ऑक्सीजन बेड सोमवार तक तैयार कर लिये जायेंगे। इसके अलावा वहां ग्राउण्ड फ्लोर पर 70 बेड के लिये पाईप लाईन बिछाने का कार्य भी पूरी तेजी से चल रहा है। यह भी अगले हफ्ते के अंत तक पूरा कर लिया जायेगा। केआईटी में 150 बेड तथा मंगल भवन सारंगढ़ में 50 ऑक्सीजन बेड के लिये पूरी तैयारी कर ली गई है। अगले एक से दो दिनों में फ्लोमीटर आते ही तत्काल ये बिस्तर चालू हो जायेंगे। इसके साथ ही अगले सप्ताह तक जिले में ऑक्सीजन बेड बढ़ाने के लिये पर्याप्त संख्या में फ्लोमीटर की आपूर्ति भी कर ली जायेगी। खरसिया के चपले में 10 ऑक्सीजनेटेड बेड शुरू कर दिया गया है। लैलूंगा में फिलहाल 20 ऑक्सीजन बेड संचालित है जिसमें 30 बेड और बढ़ाये जाने की योजना है। इसके साथ ही सीएसआर से 100 बिस्तर का प्रीफैब्रिकेटेड अस्पताल केआईटी के पास बनाने की तैयारी शुरू कर दी गई है। इसके साथ ही आगे खरसिया, धरमजयगढ़ में आक्सीजनेटेड बेड तैयार करने की योजना है। इसके लिए भी संसाधनों की तैयारी शुरू कर दी गयी है। निजी अस्पतालों में राजप्रिय अस्पताल को पूर्ण रूप से कोविड अस्पताल बनाने के निर्देश दिये गये है। इसी प्रकार रायगढ़ में आर.एल.अस्पताल व तमनार के जिंदल अस्पताल में भी ऑक्सीजन बेड बढ़ाये गये है। रायगढ़ के अन्य निजी अस्पताल भी ऑक्सीजन बेड बढ़ा रहे हैं।

कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि जिले में ऑक्सीजन तथा सिलेण्डर की उपलब्धता की कोई समस्या नहीं है। सिलेण्डर की हैडलिंग के लिये अस्पतालों में मैनपावर लगाये गये है। मेडिकल स्टॉफ में 19 डॉक्टरों की पदस्थापना जिले में की गई है। जिसमें से 6 डॉक्टर ज्वाईन कर चुके है। इनमें से 3 को मेडिकल कालेज में एवं 3 को केआईटी में पदस्थ किया गया है। साथ ही शेष डॉक्टरों की जॉइनिंग भी करवायी जा रही है। उद्योगों तथा ईएसआईसी से 5-6 डॉक्टर और बढ़ाये गए हैं। 50 एएनएम व 17 एमपीडब्ल्यू का ज्वाइनिंग आदेश जारी कर दिया गया है जो सोमवार को ज्वाईन कर लेंगे।

उच्च शिक्षामंत्री श्री पटेल ने जिले के शासकीय एवं निजी अस्पतालों में रेमडेसिवीर की आपूर्ति एवं वितरण व्यवस्था की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि रेमडेसिवीर की दवा जरूरतमंद मरीजों को डॉक्टरी सलाह पर सीधे अस्पतालों में ही मिले। कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि रेमडेसिवीर वितरण की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी जिला पंचायत सीईओ डॉ. रवि मित्तल को दी गई है। जो अस्पतालों के डिमांड के आधार पर वितरण की व्यवस्था देख रहे है। इसमें रेमडेसिवीर इंजेक्शन के लिए जारी मेडिकल गाईड लाईन के अनुसार मरीजों को उसे दिया जाना सुनिश्चित किया जा रहा है। इस संबंध में कोविड का इलाज कर रहे डॉक्टरों की अलग से बैठक ली गई है।

उच्च शिक्षामंत्री श्री पटेल ने मेडिकल कालेज में सीसीटीवी इस्टॉलेशन कार्य की भी जानकारी ली। बताया गया कि मेडिकल कालेज में सीसीटीवी सेटअप लगा दिया गया है तथा कंट्रोल रूम तैयार किया जा रहा है। मॉनिटरिंग के लिए अधिकारियों की ड्यूटी भी लगा दी गई है। उन्होंने अस्पतालों में टीवी लगवाने के निर्देश भी दिये। साथ ही मरीजों से बात कर उनका मनोबल बढ़ाते रहने और फीडबैक लेने के निर्देश भी दिए।वर्चुअल माध्यम से आयोजित इस बैठक में विधायक रायगढ़ श्री प्रकाश नायक, विधायक धरमजयगढ़ श्री लालजीत सिंह राठिया, विधायक सारंगढ़ श्रीमति उत्तरी गनपत जांगडे, विधायक लैलूंगा श्री चक्रधर सिंह सिदार, महापौर नगर निगम रायगढ़ श्रीमति जानकी काटजू, कलेक्टर श्री भीम सिंह, सीईओ जिला पंचायत डॉ.रवि मित्तल, सीएमएचओ डॉ एस.एन.केसरी व मेडिकल कॉलेज की डीन डॉ.यास्मीन खान, मेडिकल कॉलेज सुपरिंटेंडेंट डॉ मनोज मिंज, नगर निगम आयुक्त श्री आशुतोष पांडेय शामिल हुए।