Wed. Sep 18th, 2019

मानसून से पहले राजधानी में पारा 40 डिग्री, गर्मी से थोड़ी राहत और आज भी बूंदाबांदी के आसार

रायपुर/अरब सागर में सक्रिय चक्रवात अब उत्तर-पश्चिम भारत को छूते हुए आगे बढ़ रहा है, इसलिए इसकी विपरीत दिशा में आगे बढ़ रहे मानसून की रफ्तार कुछ धीमी हो गई है। हालांकि हवा की दिशा में बार-बार बदलाव का असर अब राजधानी समेत प्रदेश पर नजर आ रहा है। स्थानीय स्तर पर कम दबाव के क्षेत्र बनने की वजह से समुद्र की ओर से नमी आ रही है। इससे राजधानी ही नहीं, प्रदेश के लगभग सभी मैदानी शहरों में झुलसाने वाली गर्मी से राहत मिली है और तापमान 40 डिग्री के आसपास पहुंच गया है।

राजधानी समेत राज्य के कई हिस्सों में रविवार को दिनभर हवा की रफ्तार ज्यादा थी और बादलों की वजह से बूंदाबांदी भी होती रही। रविवार की शाम भी शहर में कहीं-बूंदाबांदी हुई तो कहीं बौछारें पड़ीं। इस वजह से गर्मी की चुभन कम हुई, हालांकि धूप निकलने की वजह से उमस भी महसूस की गई। मौसम विज्ञानियों ने बताया कि मानसून अभी कर्नाटक के दक्षिणी हिस्से में सक्रिय है और बस्तर पहुंचने में थोड़ा वक्त है, लेकिन तब तक राजधानी और प्रदेश का मौसम लगभग ऐसा ही रहने वाला है।


सभी जगह गिरा तापमान : पिछले दिनों के मुकाबले तापमान में सभी जगह कमी आ गई है। पारा तीन से चार डिग्री तक गिर गया है। हालांकि जून के दूसरे पखवाड़े के हिसाब से दिन का तापमान सामान्य से ज्यादा ही बना हुआ है।
 जगदलपुर में तापमान 38.6 डिग्री है, जो सामान्य से छह डिग्री अधिक है। राजनांदगांव में 42.8 जो सामान्य से आठ डिग्री ज्यादा है। रायपुर में पारा 40 डिग्री है। यह सामान्य से चार डिग्री अधिक है। हालांकि मौसम विभाग ने रायपुर संभाग में कई जगह सोमवार को तेज हवा के साथ बूंदाबांजी जारी रहने के आसार जताए हैं।