Thu. Jun 20th, 2019

भाजपा ने हाथरस से राजवीर सिंह को उतारा, कोरबा से ज्योत्सना महंत कांग्रेस की उम्मीदवार

कांग्रेस ने 5 और भाजपा ने 4 उम्मीदवारों की सूची जारी कीछत्तीसगढ़ में कांग्रेस और भाजपा दोनों की 11 लोकसभा सीटों की तस्वीर साफ

रायपुर/नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव के लिए सोमवार रात कांग्रेस ने 5 और भाजपा ने 4 उम्मीदवारों की सूची जारी की। कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ की 2, गोवा की 2 और दमन-दीव की 1 सीट पर उम्मीदवार की घोषणा की। भाजपा ने असम की 1, कर्नाटक की 2 और उत्तर प्रदेश की 1 सीट पर नाम तय किया है।

उत्तर प्रदेश की हाथरस सीट को लेकर भाजपा चुनाव समिति की बैठक में काफी गहमागहमी के बाद अंतत: इगलास विधायक राजवीर सिंह बाल्मीकि दिलेर का नाम तय किया गया। राजवीर के पिता किशनलाल दिलेर भी हाथरस संसदीय क्षेत्र से चार बार सांसद रह चुके हैं।

छत्तीसगढ़ में बची हुईं दो लोकसभा सीटों पर कांग्रेस ने महिलाओं को मैदान में उतारा है। दुर्ग से जहां पूर्व विधायक प्रतिमा चंद्राकर को प्रत्याशी बनाया गया है, वहीं काेरबा से विधानसभा अध्यक्ष डाॅ. चरणदास महंत की पत्नी ज्योत्सना महंत को टिकट दिया गया है। इन दोनों सीटों की घोषणा होने के साथ ही राज्य में सभी 11 लोकसभा सीटों की तस्वीर साफ हो गई है। भाजपा अपने 11 प्रत्याशी पहले ही घोषित कर चुकी है।

कांग्रेस के 5 उम्मीदवारों की सूची

राज्यलोकसभा सीटउम्मीदवार
छत्तीसगढ़कोरबाज्योत्सना महंत
छत्तीसगढ़दुर्गप्रतिमा चंद्राकर
गोवानॉर्थ गोवागिरीश चोडनकर
गोवासाउथ गोवाफ्रांसिस्को सरदिन्हा
दमन और दीवदमन और दीवकेतन पटेल

भाजपा के 4 उम्मीदवारों की सूची

राज्यलोकसभा सीटउम्मीदवार
असमनोगांग रूपक शर्मा
कर्नाटकबैंगलोर रूरलअश्वंत नारायण
कर्नाटकबैंगलोर साउथतेजस्वी सूर्या
उत्तर प्रदेशहाथरसराजवीर सिंह बाल्मीकि

कांग्रेस ने जातिगत समीकरण का ध्यान रखा

कांग्रेस ने जातिगत समीकरण को ध्यान में रखकर टिकट बांटे हैं। दुर्ग सीट पर भाजपा ने विजय बघेल को मैदान में उतारा है। इसके तोड़ में कांग्रेस ने भी कुर्मी प्रत्याशी के रूप में प्रतिमा चंद्राकर को उतारकर मुकाबला दिलचस्प बना दिया है। अब यहां साहू समाज के वोटरों को साधने का काम वर्तमान सांसद ताम्रध्वज साहू के कंधों पर हाेगा। हालांकि, पिछले चुनाव में साहू समाज की भाजपा से नाराजगी का फायदा कांग्रेस को मिला था। लेकिन इस बार समाज के वोट को अपने पक्ष में करना दोनों ही दलों के लिए बड़ी चुनौती होगी। इधर, कोरबा से डाॅ. महंत तीन बार सांसद रह चुके हैं। इसलिए यहां से उनकी पत्नी को टिकट देकर कांग्रेस इस सीट को बरकरार रखना चाह रही है।

ज्योत्सना और प्रतिमा की पृष्ठभूमि सियासी, इसलिए टिकट

  • कोरबा में प्रत्याशी बनाई गईं ज्योत्सना महंत समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ी हैं। वे डाॅ. चरणदास महंत की कोरबा सीट के चुनाव संचालन आैर प्रबंधन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती रही हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रहे बिसाहूदास महंत की बहू हैं। 
  • दुर्ग में प्रतिमा चंद्राकर को विधानसभा चुनाव का टिकट लगभग तय था। लेकिन ऐन वक्त पर रणनीति बदली गई। इसी की भरपाई के तौर पर लोकसभा का टिकट मिला। कांग्रेस वरिष्ठ नेता एवं सीएम भूपेश बघेल के राजनीतिक गुरु वासुदेव चंद्राकर की बेटी हैं।

कांग्रेस-भाजपा में एक ही फाॅर्मूला

2 महिलाएं, 4 ओबीसी, 2 साहू और एक कुर्मी को दिया टिकट भाजपा और कांग्रेस ने टिकट वितरण में एक ही तरह का फार्मूला अपनाया। दोनों ही दलों ने जहां दो-दो महिला प्रत्याशी मैदान में उतारे हैं, वहीं चार-चार ओबीसी, जिसमें दो-दो साहू, एक-एक कुर्मी को प्रत्याशी बनाया है। कांग्रेस की तरह भाजपा ने भी युवा और नए चेहरों को मैदान में उतारकर लोकसभा चुनाव का मुकाबला दिलचस्प बना दिया है। 

छत्तीसगढ़ में भाजपा बनाम कांग्रेस

सीटभाजपा कांग्रेस
बस्तर    बैदूराम कश्यप    दीपक बैज
कांकेर    मोहन मंडावी    बीरेश ठाकुर
महासमुंद    चुन्नीलाल साहू    धनेन्द्र साहू
रायपुर    सुनील सोनी    प्रमोद दुबे
दुर्ग    विजय बघेल  प्रतिमा चंद्राकर
राजनांदगांव    संतोष पांडेय  भोलाराम साहू
बिलासपुर    अरुण साव    अटल श्रीवास्तव
कोरबा    ज्योतिनंद दुबे    ज्योत्सना महंत
रायगढ़    गोमती साय  लालजीत राठिया
सरगुजारेणुका सिंह     खेलसाय सिंह
जांजगीर-चांपा     गुहाराम अजगले    रवि भारद्वाज