CHHATTISGARH 

छत्तीसगढ़ सरकार ने किया सुपोषण योजना का शुभारंभ

रायपुर. कुपोषण की समस्या की जिक्र करते हुए रमन सिंह यहाँ न्यू सर्किट हाउस में सभा को संबोधित करते हुए कहा कि “कुपोषण के खिलाफ जो लड़ाई है, वो पीढ़ियों की लड़ाई है कुपोषण से पीढ़ियां खराब होती है, नक्सलवाद से बड़ी लड़ाई कुपोषण के खिलाफ लड़ाई है, नक्सलवाद के खिलाफ तो हम जीतेंगे, कुपोषण के खिलाफ जीतना है युद्ध में जितनी जानें जाती है, उससे कहीं ज्यादा मौत कुपोषण से होती है”| वे यहाँ राज्य सरकार की सुपोषण योजना का शुभारंभ करने आये थे | रमन सिंह ने आगे कहा कि छत्तीसगढ़ में कुपोषण  का आंकड़ा 72% था, लेकिन अब यह घटकर 30 से 35 प्रतिशत पर आ गया है। छत्तीसगढ़ शुरुआत से ही कुपोषण के खिलाफ लड़ रहा है और इस लड़ाई में अच्छे परिणाम आये हैं| कुपोषण के खिलाफ ये लड़ाई जारी रहेगी और आने वाले समय में कुपोषण का आंकड़ा 12 से 15 फीसदी तक आ जायेगा|

संकल्प सुपोषण योजना के तहत कुपोषण की निगरानी के लिए अब ऑनलाइन मानिटरिंग की जाएगी, साथ ही पोषण परामर्श केंद्र के जरिये लोगों को जानकारी भी दी जायेगी| छत्तीसगढ़ में कुपोषण की समस्या एक बड़ी परेशानी है और राज्य सरकार द्वारा उठाया गया यह कदम काबिल-ए-तारीफ है|

Related posts

Leave a Comment