CHHATTISGARH featured National News POLITICS 

छत्तीसगढ़ / दंतेवाड़ा नक्सली हमले में मारे गए पत्रकार पर माओवादी लीडर ने जताया दुख, कहा पुलिस बदनाम कर रही है

दंतेवाड़ा. नीलवाया में हुई नक्सली घटना के बाद माओवादियों का एक पत्र सामने आया है। इसमें कम्यूनिस्ट पार्टी माओवादी के दरभा डिवीजन के सचिव के हवाले से लिखा गया है। पत्र में माओवादी लीडर ने दूरदर्शन के कैमरामैन अच्युतानंद की मौत पर दुख जताया है। उसका कहना है कि पुलिस पार्टी के साथ पत्रकार के आने की जानकारी नहीं थी।

 

नक्सली लीडर ने स्वीकारा कि 30 अक्टूबर को नीलवाया के पास एंबुश लगाया गया था। एंबुश में गलती से पुलिसकर्मियों के साथ पत्रकार भी फंस गए। पत्रकारों को निशाना बनाने का कोई इरादा नहीं था और पत्रकारों पर जानबूझ कर हमला नहीं किया गया। पुलिस मीडिया के सामने नक्सलियों को बदनाम करने की कोशिश कर रही है। नक्सलियों ने जारी पर्चे में कहा कि पत्रकार पुलिस पार्टी के साथ अंदुरुनी इलाके में ना आए। नक्सलियों ने पत्रकारों को अपना मित्र बताया है। नक्सलियों ने पुलिस की ज्यादतियों और सड़क निर्माण के दौरान कई गांवो के ग्रामीणों की फसल नष्ट होने का आरोप लगाया है।

Related posts