Thu. Nov 14th, 2019

आज से शासकीय शालाओं में प्रदेश सरकार द्वारा निर्देशित “राज्य स्तरीय आंकलन परीक्षा” प्रारम्भ, नए विद्यार्थियों में इम्तेहान को लेकर बनी है उत्सुकता ।

रायगढ़ :- छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा शासकीय शालाओं में शिक्षा के स्तर को सुधार के लिए प्रतिबद्ध होकर प्रदेश के सभी शासकीय शालाओं में राज्य स्तरीय आंकलन परीक्षा लिया जा रहा है, जिसमे स्कूली छात्रों के सिलेबस से जुड़ी सभी विषयों पर उनकी परीक्षाएं ली जाएगी ।

आज उसी परीक्षा की जमीनी हकीकत को जानने हमारी टीम रायगढ़ जिले के पुसौर विकाशखण्ड स्थित ग्राम जेवरीडीह प्राथमिक शाला में गई जहां प्राथमिक शाला के विद्यार्थी बहुत ही लगन से परीक्षा लिखते दिखे । नव प्रवेशी छात्रों से इस परीक्षा के विषय मे बात किया, और उनको पूछा कि पहली बार परीक्षा दे रहे हो कैसा लग रहा है, तो बच्चों ने खुश मिजाजी में कहा बहुत अच्छा लग रहा है, स्कूली छात्रों में सबसे पहली सभी प्रश्न को हल करने की होड़ लगी थी स्कूली बच्चों में यह उत्साह देख कर एकबारगी लगा की सरकार द्वारा शिक्षा गुणवत्ता में सुधार हेतु ये अनोखी एवं कारगर पहल है ।

प्राथमिक शाला जेवरीडीह के प्रधानपाठक दाशरथी जांगड़े एवं शिक्षक भुनेश्वर सिदार, एस कुमार सारथी से इस परीक्षा के सम्बंध में बात करने पर उन्होंने हमारी टीम को बताया कि यह परीक्षा स्कूल शिक्षा विभाग की सबसे अच्छी पहल है ।इससे हम हमारे द्वारा पढ़ाए बच्चों के बौद्धिक विकाश का पैमाना माप सकते हैं एवं कमजोर विद्यार्थियों को प्रिपेयर कर वार्षिक परीक्षा में शामिल करा सकते हैं जिससे वर्तमान स्थिति में कमजोर छात्र भी अच्छा रिजल्ट दे सकते हैं ।

You may have missed