गाजियाबाद में बसपा के संभावित उम्मीदवार हाजी अकील के बाद लोनी पुलिस ने अब कांग्रेस के संभावित प्रत्याशी यासीन मलिक के खिलाफ आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया है। विधानसभा चुनाव के नोडल अधिकारी और एसपी ग्रामीण डॉ. ईरज राजा ने बताया कि लोनी विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के संभावित उम्मीदवार यासीन मलिक द्वारा आचार संहिता का उल्लंघन कर चुनाव प्रचार किया गया। इस दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का पालन भी नहीं किया गया, जिसके चलते यासीन मलिक और उनके समर्थकों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। मुकदमे में यासीन मलिक के अलावा अकबर चौधरी, सितारा मस्जिद के पास रहने वाले जाकिर और कामिल सैफी को भी नामजद किया गया है।

गाजियाबाद में पदयात्रा निकालने बसपा नेता हाजी अकील पर FIR दर्ज

गाजियाबाद जिले में पहले चरण में 10 फरवरी को मतदान होगा। चुनाव के लिए प्रशासन ने सभी तैयारियां कर ली हैं। इस बार जिले की पांच विधानसभा लोनी, मुरादनगर, साहिबाबाद, गाजियाबाद और मोदीनगर में कुल 27.77 लाख मतदान करेंगे। पिछले चुनाव के मुकाबले इस बार 2,80,027 मतदाता बढ़े हैं।

जिलाधिकारी ने 15 जनवरी तक जनपद में धारा 144 बढ़ा दी है। पांचों विधानसभा और आंशिक धौलाना विधानसभा के लिए 3,353 पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं। आचार संहिता का पालन कराने के लिए 30 टीम बनाई हैं।

आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू

चुनावों की घोषणा के साथ ही चुनाव अधिसूचना तत्काल प्रभाव से जारी कर दी गई और इसी के साथ आदर्श चुनाव आचार संहिता भी लागू हो गई है। चुनाव के दौरान कोविड गाइडलाइन सख्ती से लागू की जाएगी। कोविड के खतरे को ध्यान में रखते हुए इस बार रैलियों पर रोक लगाई गई है। केवल वर्चुअल रैलियों की इजाजत दी गई है। इस बार महिला मतदाताओं की तादाद बढ़ी है।

यूपी में 7 चरणों में होगा मतदान

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव कार्यक्रम की घोषणा कर दी गई है। इस बार यहां सात चरणों में मतदान होगा और 10 मार्च को मतगणना होगी। देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में विधानसभा की 403 सीटें हैं। वर्ष 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में भाजपा को शानदार सफलता मिली थी। उत्तर प्रदेश में मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल 14 मई 2022 को समाप्त हो जाएगा।

यूपी में पहले चरण का चुनाव 10 फरवरी को होगा। पहले चरण के मतदान के लिए 14 जनवरी 2022 को नोटिफिकेशन जारी होगा और 21 जनवरी तक नामांकन दाखिल किए जा सकेंगे। 24 जनवरी को नामांकन पत्रों की स्क्रूटनी की जाएगी और 27 जनवरी तक नाम वापस लिए जा सकेंगे।

प्रत्याशियों के लिए चाय-पानी से लेकर मास्क और सैनिटाइजर तक का खर्च तय, देखिए पूरी रेट लिस्ट