जनधन खाताधारकों को जल्द अटल पेंशन योजना और बीमा योजना का लाभ भी मिल सकता है। इसके अलावा किसानों और छोटे कारोबारियों को जनखाते के जरिये कर्ज सुविधा देने की योजना पर भी विचार हो रहा है। मामले से जुड़े सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी है।

सूत्रों की मानें तो बैंक जल्द ही देशभर में जनधन 3.0 के तहत नए खाते खोलना शुरू करेंगे। नए चरण में सरकार का जोर डिजिटल डोरस्टेप बैंकिंग पर भी होगा जिससे अधिक से अधिक लोगों तक बैंकिंग, बीमा और पेंशन का लाभ दिया जा सके। मामले से जुड़े सूत्रों का कहना है कि बैंकों से कहा गया है कि बदलते दौर में डिजिटल बैंकिंग के बढ़ते महत्व को देखते हुए जनधन खाता को सभी तरह की जरूरी बैंकिंग, बीमा और पेशन योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए एक मंच की तरह इस्तेमाल करने पर काम करें।

यह भी पढ़ें: पीएम किसान की 10वीं किस्त भेजने की तैयारी शुरू, तीन कृषि कानूनों की वापसी की तरह क्या सम्मान निधि दोगुनी कर चौंकाएंगे मोदी?

उल्लेखनीय है जनधन खाता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की महत्वकांक्षी पहल में से एक रही है। इस योजना के तहत रिकॉर्ड कम समय में 40 करोड़ से अधिक खाते खोले गए। कई विशेषज्ञों की आलोचनाओं के बावजूद जनधन खाता का महत्व कोरोना महामारी में जरूरतमंदों तक सीधे राशि भेजने, सरकारी योजनाओं का लाभ सीधे खाते में देने समेत कई मौकों पर देखने को मिला है। अब विशेषज्ञ इसकी पहुंच को देखते हुए इसे पासा पलटने वाला बता रहे हैं।

अटल पेंशन योजना को जोड़ने की तैयारी

सरकार अपनी कई योजनाओं को जनधन खाते से जोड़ना चाहती है। मामले से जुड़े सूत्रों का कहना है कि इसमें सबसे महत्वपूर्ण अटल पेंशन योजना है। इसके अलावा बैंकों को सुकन्या समृद्धि योजना, पीएम स्वनिधि योजना और स्टैंडअप इंडिया और सरकारी बीमा योजनाओं को भी जनधान खाते से जोड़ने पर पर विचार करने को कहा गया है। बैंकों से कहा गया है कि जनधन, आधार और मोबाइल (जैम) के तहत वह जनखातों को सभी बैंकिंग सुविधाओं से जोड़ने का प्रयास करें जिससे अधिक से अधिक लाभ खाताधारकों को हो।

किसान-छोटे कारोबारियों को भी लाभ मिलेगा

जनधन खातों के जरिये सरकार अब किसानों ओर सूक्ष्म,लघु एवं मझोले (एमएसएमई) उद्योग से जुड़े कारोबारियों को भी सुविधा देने की है। इसके जरिये किसानों, छोटे कारोबारियों को जल्द कर्ज मुहैया कराने की भी योजना शुरू करने पर काम हो रहा है। इसके अलावा सरकार घर-घर बैंकिंग सुविधा पहुंचाने की योजना पर काम कर रही है। इसमें डिजिटल बैंकिंग को बढ़ावा देने के साथ हर पांच किलोमीटर के दायरे में बैंकिंग सुविधाएं देना भी शामिल है।

एक खाता पर कई फायदे

जनधन खाता में आपको दो लाख रुपये का दुर्घटना बीमा और 30 हजार रुपये का सामान्य बीमा कवर दिया जाता है। पहले दुर्घटना बीमा कवर एक लाख रुपये था जिसे वर्ष 2018 में बढ़ाकर दो लाख रुपये कर दिया गया। इसके अलावा खाता खुलने के छह माह बाद ओवरड्राफ्ट की सुविधा, मुफ्त मोबाइल बैंकिंग, रुपे डेबिट कार्ड मिलता है। साथ ही सरकारी योजनाओं के लाभ का पैसा सीधे खाते में आता है।

ऐसे खुलवा सकते हैं खाता

कोई भी 10 साल या उससे ज्यादा की उम्र का व्यक्ति यह खाता खुलवा सकता है। आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, मनरेगा जॉब कार्ड समेत केवाईसी की जरूरत को पूरा करने वाले दस्तावेज जमा कर सकते हैं। अगर आपके पास दस्तावेज नहीं हैं, तो आप स्मॉल अकाउंट खुलवा सकते हैं जिसमें आपको स्वप्रमाणित फोटोग्राफ और बैंक अध‍िकारी के सामने अपने हस्ताक्षर भर देना होता है। जनधन खाता खुलवाने के लिए आपको किसी भी तरह का शुल्क नहीं देना होता है।