कोई भी सब्जी बनाते समय ज्यादातर वक्त प्याज और टमाटर को भूनकर इसे ग्रेवी बनाने में लगता है। वहीं, कई बार किसी व्रत या पूजा वाले दिन कई लोग प्याज और लहसुन के बिना ग्रेवी बनाना चाहते हैं। ऐसे में ग्रेवी बनाने के ट्रेडिशनल तरीके से अलग कई लोगों को दूसरे तरीकों की जानकारी नहीं होती, जिससे सब्जी स्वादिष्ट नहीं बनती। आज हम आपको बता रहे हैं ग्रेवी बनाने के और भी तरीके- 
– सब्जी की तरी को गाढ़ा करने टमाटर की ग्रेवी के साथ आटा या मैदा डाला जा सकता है। पर इसे डालने से पहले हल्का-सा रोस्ट कर लें।
– तेल में आटे या मैदे को भूनने के बाद इसमें टमाटर की ग्रेवी डालकर गाढ़ा कर लें। बाद में इस ग्रेवी को सब्जी में डाल दें। 
– अगर सब्जी में प्याज को छोड़कर उसमें टमाटर और सही से इस्तेमाल किए गए मसाले डालें तो खाने का स्वाद बढ़ सकता है।
– गोभी या तोरी की तरह ही कद्दू या हरे पेठे को उबालकर तैयार की गई ग्रेवी से भी सब्जी का स्वाद बढ़ाया जा सकता है।
– सब्जी को गाढ़ा और टेस्टी बनाने के लिए दो चम्मच भूने हुए बेसन को पानी में फेंटकर सब्जी में डालने से ग्रेवी थिक हो जाती है।
– सूखे ब्रेड पीस को बारीक क्रश करके सब्जी में डालने से ग्रेवी गाढ़ी हो जाती है। 
– उबले हुए आलू को कद्दूकस करके सब्जी में डालने से भी ग्रेवी गाढ़ी हो जाती है।
– ग्रेवी को थिक करने के लिए टोमैटो प्यूरी का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। प्यूरी के साथ चाहें, तो गाजर या मूली को बारीक पीस सकते हैं।
– अदरक और शलजम के पेस्ट से भी बढ़िया ग्रेवी तैयार की जा सकती है। 
-मूंगफली नहीं है तो बादाम के पेस्ट से भी सब्जी को गाढ़ा और टेस्टी बनाया जा सकता है।