लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में योगी सरकार को साढ़े चार साल पूरे हो चुके हैं. अब विधान सभा चुनाव नजदीक है. लिहाजा योगी सरकार का रिपोर्ट कार्ड (Yogi Govt’s Report Card) भी जनता के सामने पेश है. लखनऊ में आज (रविवार को) सीएम योगी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस (CM Yogi Adityanath’s PC) करके पिछले साढ़े चार साल की अपनी सरकार की उपलब्धियों को जनता के सामने रखा.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश के पीएम मोदी जी के आभारी हैं, जिनके मार्गदर्शन में आज हमारी सरकार सफलतापूर्वक साढ़े चार साल का कार्यकाल पूरा कर रही है. यूपी में सुरक्षा और सुशासन की दृष्टि से हमारी सरकार ने बहुत काम किए. यूपी का परसेप्शन देश और दुनिया में बदला है. सरकार और संगठन के सामूहिक प्रयास से काम किए गए. इस सरकार की सफलता में केंद्रीय नेतृत्व के निरंतर सहयोग की बहुत बड़ी भूमिका रही.

ये भी पढ़ें- अंबिका सोनी ने पंजाब का सीएम बनने से किया इनकार, रेस में सुनील जाखड़ समेत ये नाम आगे

मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी के इतिहास में ये एक स्मरणीय कार्यकाल माना जाएगा. ये वही यूपी है जहां माफिया सत्ता के करीब रहते थे. 2012-17 के दौरान पिछली सरकार में हर तीसरे चौथे दिन दंगा होता था लेकिन हमारी सरकार में एक भी दंगा नहीं हुआ. अपराधियों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई की गई. अपराधियों के अवैध निर्माण को भी गिराया गया. अवैध रूप से बनाई गई 1,866 करोड़ रुपये की संपत्तियों को ध्वस्त और जब्त किया गया.

उन्होंने आगे कहा कि पहले सीएम अपने आवास बनाने के लिए बनते थे. खुद के लिए हवेली और मकान बनाने में मुकाबला होता था. हम लोगों ने अपने आवास नहीं बनाए, गरीबों को 42 लाख आवास दिए हैं. यही सुशासन है.

ये भी पढ़ें- पंजाब के सियासी भूचाल का असर राजस्थान में भी, सीएम गहलोत के OSD ने दिया इस्तीफा

सीएम योगी ने कहा कि पहले जब कोई आपदा आती थी तो महीनों और सालों लग जाते थे लेकिन गरीबों को मदद नहीं मिलती थी. लेकिन अब तत्काल 24 घंटे में सहायता पहुंचती है. डीडीटी के माध्यम से 5 लाख करोड़ से ज्यादा की धनराशि लाभार्थियों को देने का काम किया. युवाओं को 4.5 लाख सरकारी नौकरियां दी गईं. आरक्षण के नियमों का पालन करते हुए नौकरी दी गई. पारदर्शी रूप से नौकरी दी गई.

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग’ में उत्तर प्रदेश, देश में दूसरे स्थान पर है. जल्द ही हम सभी का प्रदेश पहले पायदान पर होगा. उत्तर प्रदेश, देश की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन चुका है.

सीएम योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में बेटियों को त्वरित न्याय मिलता है. 218 नए फास्ट ट्रैक कोर्ट, 81 मजिस्ट्रेट स्तरीय कोर्ट और 81 अपर सेशन कोर्ट की स्थापना हुई है. नए उत्तर प्रदेश में बेटियों को त्वरित न्याय मिलने का पथ सुगम हुआ.

उन्होंने आगे कहा कि अब तक 1.43 लाख पुलिसकर्मियों की भर्तियां हुई हैं. बेहतर पुलिसिंग के लिए चार बड़े शहरों में कमिश्नरेट प्रणाली लाई गई है. 214 नए पुलिस स्टेशन, साइबर पुलिस स्टेशन और साइबर सेल का गठन हुआ है. साथ ही SDRF और SSF का गठन किया गया है. बालिकाओं को ग्रेजुएशन तक मुफ्त शिक्षा दी जा रही है. 1.67 करोड़ मातृशक्ति को मुफ्त गैस कनेक्शन मिला है. सभी 1,535 थानों में महिला हेल्प डेस्क का गठन हुआ.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश ‘एक्सप्रेस प्रदेश’ बनने की ओर अग्रसर है. दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे और पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का निर्माण इसका बेहतरीन उदाहरण है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश ‘एक्सप्रेस प्रदेश’ बनने की ओर अग्रसर है. दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे और पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का निर्माण इसका बेहतरीन उदाहरण है. अब तक 86 लाख लघु और सीमांत किसानों का 36,000 करोड़ रुपये कर्ज माफ किया गया है. किसानों को मिला ये लाभ, पिछली सरकार की तुलना में 22 गुना ज्यादा है. साल 2017 में प्रदेश की बेरोजगारी दर 17.5% थी, जो मार्च, 2021 में घटकर 4.1% रह गई.