अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में 50 साल के भारतीय मूल के नागरिक का अपहरण कर लिया गया है। दावा किया जा रहा है कि 5 लोगों ने बंदूक की नोंक पर करटे परवान इलाके से एक हिंदू का अपहरण किया है। अकाली दल के नेता मनजिंदर सिरसा ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है। मनजिंदर सिरसा दिल्ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी के अध्यक्ष भी हैं। अकाली नेता ने ट्वीट कर कहा कि 50 साल के बंसुरी लाल अलांदे का 5 लोगों ने गन प्वाइंट पर उनका अपहरण कर लिया। काबुल में रहने वाली हिंदू सिख परिवार से मेरी बातचीत हुई है। उन्होंने कहा कि वहां अल्पसंख्यक सहमे हुए हैं। अकाली नेता ने विदेश मंत्रालय को भी टैग किया था।

बंसुरी लाल काबुल में एक स्थानीय व्यापारी है। अकाली नेता ने एक वीडियो जारी कर कहा कि बंसुरी लाल अपने वेयरहाउस पर जा रहे थे। इसके बाद कार में सवार होकर 5 लोग पहुंचे और जबरन उन्हें अपनी कार में बैठा कर ले गये। उनके भाई और घर के अन्य लोगों ने मदद के लिए आवाज भी लगाई थी लेकिन किसी ने उनकी मदद नहीं की।

कुछ अन्य ट्वीट्स में यह भी कहा गया है कि बांसुरी लाल भारतीय मूल के थे औऱ काबुल के रहने वाले थे। मंगलवार को उनका अपहरण कर लिया गया। कुछ अन्य मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि उनका परिवार दिल्ली में रहता है। आपको बता दें कि 15 अगस्त को तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया था। इसके बाद से कई भारतीयों को वहां से निकाला गया है।

पिछले महीने खबर आई थी कि करीब 150 भारतीयों का अपहरण काबुल एयरपोर्ट से कर लिया गया है। हालांकि बाद में सरकार की तरफ से कहा गया था कि भारतीयों को पूछताछ के लिए नजदीकी पुलिस स्टेशन में लाया गया था और बाद में उन्हें छोड़ दिया गया था।