देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी घरेलू बाजार में अपनी किफायती और बेहतर परफॉर्मेंस वाली कारों के लिए मशहूर है। अब कंपनी ने घोषणा की है कि उसने अब तक देश में 25 लाख से ज्यादा Swift हैचबैक कार की बिक्री की है। मारुति स्विफ्ट को ये मुकाम हासिल करने में तकरीबन 16 साल लगे हैं।

बता दें कि, मारुति सुजुकी ने साल 2005 में पहली बार इंडियन मार्केट में अपनी Maruti Swift कार को लॉन्च किया था। तब से लेकर आज तक कई बार इस कार को अपडेट किया गया और इसके अलग-अलग जेनरेशन को बाजार में उतारा गया। इस साल की शुरुआत में फरवरी महीने में कंपनी ने मारुति स्विफ्ट के फेसलिफ्ट मॉडल को पेश किया था।

साल 2018 में कंपनी ने इसके थर्ड जेनरेशन मॉडल को बाजार में उतारा था, जो कि कंपनी के मशहूर Heartect प्लेटफॉर्म पर बेस्ड थी। ये प्लेटफॉर्म कार को लाइटवेट बनाने के साथ ही इसके परफॉर्मेंस को भी बेहतर करता है। अपने सेग्मेंट में ये कार काफी मशहूर है और इसे लोग खूब पसंद करते हैं।

maruti suzuki swift

इस साल फरवरी में पेश की गई नई Swift की कीमत 5.85 लाख रुपये से शुरू होती है जो कि टॉप मॉडल 8.67 लाख रुपये तक जाती है। कुल चार वेरिएंट्स में आने वाली ये कार डुअल टोन पेंट स्कीम के साथ भी उपलब्ध है। इसके फेसलिफ्ट मॉडल में कंपनी ने कुछ अपडेट किए हैं, जिससे ये कार पहले से बेहतर परफॉर्मेंस और माइलेज देती है।

कंपनी ने इसमें 1.2 लीटर की क्षमता का नया दमदार K12N पेट्रोल इंजन का प्रयोग किया है। ये इंजन 90bhp की पावर और 113Nm का टॉर्क जेनरेट करता है। इसके नए इंजन में पिस्टन कूलिंग जेट, ज्यादा कम्प्रेशन रेसियो और कूल्ड EGR सिस्टम भी दिया गया है। हालांकि पिछले मॉडल में जो इंजन इस्तेमाल किया गया था वो 82bhp की पावर और 113Nm का टॉर्क जेनरेट करता है। यानी कि नई कार ज्यादा पावरफुल है।

फीचर्स के तौर पर इस कार में पुश स्टार्ट/स्टॉप बटन, कीलेस एंट्री, ऑटोमेटिक क्लाइमेट कंट्रोल, स्टीयरिंग माउंटेड कंट्रोल्स और ऑटो फोल्ड आउट साइड रियर व्यू मिरर (ORVM’s) भी दिए गए हैं। कंपनी का दावा है कि इस कार का मैनुअल वैरिएंट 23.20 किलोमीटर प्रतिलीटर और AGS ट्रांसमिशन वैरिएंट 23.76 किलोमीटर प्रतिलीटर का माइलेज देती है।